सावधान शिवपुरी: बच्चो की तरफ बढ रहा हैं कोरोना, उत्तराखंड में 5 हजार तो यूपी में 1 हजार केस - Shivpuri News

शिवपुरी। कोरोना अब बच्चों को भी नहीं छोड रहा है और उन्हें अपना निशाना बना रहा है। यहीं वजह है कि कोरोना की तीसरी लहर में युवा और बच्चे निशाना बन सकते हैं ऐसे में अब बच्चों को बहुत ही संभालकर रखने की जरूरत हैं। बच्चों को घरों से बाहर न निकाले और मास्क पहनाकर ही घर से बाहर भेजें इतना ही नहीं बच्चों के हाथ कई बार साबुन से धुलवाएं या फिर सेनेटाइज करवाएं।

उत्तराखंड में 5 हजार केस

कोरोना का सबसे अधिक कहर उत्तराखंड में मासूमों पर बरपा है। कोरोना के 5 हजार केस उत्तराखंड के हैं जहां बच्चे कोरोना पाजिटिव हुए हैं और उनका उपचार चल रहा है। इतना ही नहीं यूपी में भी 1 हजार के करीब ऐसे केस हैं जिनमें बच्चे कोरोना पाजिटिव हुए हैं।

मप्र में भी बच्चे मिले कोरोना पाजिटिव

बात यदि मप्र की करे तो यहां भी कई बच्चे कोरोना पाजिटिव मिले हैं। शिवपुरी मे ही एक 16 माह के नवजात को कोरोना पाजिटिव पाया गया था जिसके बाद डॉक्टरों ने उसका उपचार किया है।

बडों से बच्चे हो रहे पाजिटिव

कोरोना का शिकार वे बच्चे हो रहे हैं जिनके घरों मूें बडे पाजिटिव आ रहे हैं। इतना ही नहीं कोरोना बडों से बच्चों में फैल रहा है इसलिए हमें भी और अधिक सावधानी और सतर्कता बरतनी होगी जिससे बच्चों को कोरोना से दूर रखा जाए।

जूते चप्पल उतारें बाहर, नहा कर जाएं बच्चों के पास

बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए बडों को भी सतर्कता बरतनी होगी। बडे यदि घर से बाहर जा रहे हैं तो वह पहले तो अपने जूते चप्पल बाहर उतारें इतना ही नहीं बच्चों के पास नहाकर ही जाएं जिससे कोरोना का खतरा कम होगा।

बच्चों के खिलौने सहित अन्य सामान करें सेनेटाइज

बच्चों के खिलौने से लेकर उनकी साइकिल व गाडी को अच्छी तरह से सेनेटाइज किया जाए जिससे कोरोना के फैलने का खतरा कम हो इतना ही नहीं घर के दरवाजों के कुंदियों और अन्य चीजें जिन पर कोरोना का खतरा हो उन्हें सेनेटाइज किया जाए।