100 घंटे के आध्यात्मिक कार्यक्रम कर मनाया जाएगा आनंद मार्ग के संस्थापक का 100वां जन्मदिन - Shivpuri News

शिवपुरी। आनंद मार्ग प्रचारक संघ द्वारा आनंद मार्ग के संस्थापक एवं गुरुदेव श्री श्री आनंदमूर्ति जी के 100वें जन्मोत्सव आयोजन 22 मई 2021 से आनंद पूर्णिमा 26 मई 2021 तक विभिन्न सांस्कृतिक एवं सामाजिक आध्यात्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा हैं।

दिनांक 22 मई को आनंद मार्ग प्रचारक संघ की महिला शाखा द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया यह जानकारी आनंद मार्ग प्रचारक संघ महिला शाखा की सेक्टोरियल सेक्रेटरी अवधूतिका आनंदचितप्रभा आचार्या द्वारा दी गई।

उन्होंने बताया की आनंद मार्ग प्रचारक संघ के संस्थापक एवं गुरुदेव भगवान श्री श्री आनंदमूर्ति जी का यह 100वां जन्म वर्ष है। श्री श्री आनंदमूर्ति जी का जन्मदिवस आनंद पूर्णिमा 26 मई को मनाया जाएगा। इस उपलक्ष में संस्था द्वारा 100 घंटे के ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। जो वेबीनार और गूगल मीट के द्वारा आयोजन किया जा रहा है।

इस कार्यक्रम में 22 मई को आनंद मार्ग की सांस्कृतिक शाखा रिनासा आर्टिस्ट्स एंड राइटर्स एसोसिएशन द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया । जिसमें भगवान श्री श्री आनंदमूर्ति जी द्वारा रचित प्रभात संगीत एवं नाट्य साहित्य आधारित विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां विश्व भर के आनंद मार्गियों द्वारा ऑनलाइन दी गई।

आनंद मार्ग इस कोरोना काल में भारत एवं विश्व भर में कई प्रकार के सेवा कार्य चला रहा हैं। जिससे पीड़ित मानवता की सेवा की जा सके एवं प्रभु से प्रार्थना के लिए 100 घंटे का अखंड कीर्तन "बाबा नाम केवलम" अष्टक्षरी सिद्ध महामंत्र के गायन का आयोजन कर परमात्मा से इस विपदा से संपूर्ण मानव समाज को बाहर निकालने की प्रार्थना की जा रही हैं।

यह कीर्तन 22 मई प्रातः 6:07 से प्रारंभ होकर आनंद पूर्णिमा श्री श्री आनंदमूर्ति जी का जन्म समय प्रातः 6:07 तक चलेगा। इसके अलावा 22 मई से 26 मई तक कई सामाजिक आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन संस्था द्वारा किया जा रहा है।