श्रीमान कलेक्टर महोदय, स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण ट्रैवल कर रहा है कोरोना का संक्रमण - Khula Khat

शिवपुरी। जिले में संक्रमण तेजी से ट्रेवल कर रहा हैं,इसके फलस्वरूप प्रतिदिन जिले में कोरोना पॉजीटिव मरीज निकल रहे हैं,संक्रमण को ट्रेवल कराने के पीछे स्वास्थय विभाग का साथ है। और यह हम नही कर रहे हैं सक्रंमण की ट्रेवल हिस्ट्री स्वंय स्वास्थय विभाग के आकडे दे रहे हैं। वही कोविड 19 के सैपंल लेने से जांच रिर्पोट आने तक यह सकंम्रण जिले में ट्रेवल कर रहा हैं,प्लीज कलेक्टर महोदय रोकिए इस कारोना के सक्रमंण क़़ो..........

ऐसे करा रहा हैं स्वास्थ्य विभाग संक्रमण को ट्रेवल

कोरोना से लडने का मंत्र हैं 2 गज की दूरी और मास्क हैं जरूरी,यह हम सभी तो पता हैं,अगर सक्रंमित व्यक्ति खुले में बहार घूमेगा तो वह कई लोगो को संक्रमित कर सकता हैं। इसलिए ही इस मंत्र का अविष्कार हुआ हैं। लेकिन सक्रंमित व्यक्ति प्रतिदिन आम लोगो में घूम रहे हैं मिल रहे है और संक्रमण को ट्रेवल करा रहे हैं

29 मार्च को आरटीपीसीआर के कुल 95 सैंपल भेजे गए थे और अगले दिन रिपोर्ट 139 मरीजो की आई। स्पष्ट है कि 44 रिर्पोट जो बडी हैं वह पिछले दिनो की थी। इसके बाद 30 मार्च को 218 सैंपल भेजे गए, लेकिन अगले दिन रिपोर्ट आई सिर्फ 188 की,स्पष्ट है कि 30 जांचो की रिर्पोट अगले दिन नही आई।

इसी तरह 31 मार्च को 510 सैंपल भेजे गए और अगले दिन रिपोर्ट सिर्फ 376 की रिपोर्ट प्राप्त हुई। 134 जांच रिर्पोट फिर रोकी गई। एक अप्रैल को 592 सैंपल भेजे गए, लेकिन अलगे दिन दो अप्रैल को रिपोर्ट आई सिर्फ 352 लोगों की यानी 240 कम सैंपलों की रिपोर्ट आई। अगर इन आंकडो में 30 और 31 मार्च की रूकी हुई रिर्पोट की संख्या और जोड दे तो करीब 400 सैंपलों का अंतर है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर इन 400 की रिपोर्ट आई क्यों नहीं।

सैंपलों की रिपोर्ट को न ही अगले दिन, बल्कि दो दिनों तक जारी नहीं किया जा रहा है। महामारी के इस दौर में स्वास्थ्य विभाग के कर्ताधर्ताओं का इतना गैरजिम्मेदार रवैया जनता को मुसीबत में डाल सकता है।

स्वास्थ्य विभाग अगले दिन रिपोर्ट जारी नहीं करता है। इससे तब तक सैंपल देने वाले व्यक्ति को पता ही नहीं होता है कि वह पॉजिटिव है या निगेटिव। वह पूरे शहर में ट्रेवल करता हैं और लोगो से मिलता हैं सीधा सा अर्थ हैं अगर वह व्यक्ति संक्रमित हैं तो पूरे शहर में संक्रमण ट्रेवल करता हैं इस प्रकार से वह कई लोगो को संक्रमित करता हैं

स्वास्थय विभाग की यह लापरवाही शहर की जनता के साथ प्रशासन के अन्य विभागो को भी भुगतनी पड रही हैं जो कोरोना की चेन को क्रेक करने के लिए मेहनत कर रहे हैं,अगर स्वास्थय विभाग ऐसे ही रिर्पोटो को संक्रमित करेगा तो यह कोरोना की चेन क्रेक नही होगी और कोरोना पॉजीटिव मरीजो की संख्या मे प्रतिदिन इजाफा होगा।