पंजीयन के लिए भटक रहे है किसान, कलेक्टर ने जिस केन्द्र का निरीक्षण कर सराहा उसमें ताले लगे है - Shivpuri News

कोलारस। जिले के कोलारस क्षेत्र में किसानों की फसल बेचने के लिए हो रहे पंजीयन के लिए किसान लगातार परेशान हो रहे है कोलारस क्षेत्र में 5 पंजीयन केंद्र निर्धारित किए गए है।

जिनमें एक केंद्र ए बी रोड झिरियन मंदिर के पास बनाया गया था जिसका निरीक्षण स्वयं जिलाधीश अक्षय सिंह ने किया था बावजूद इसके शनिवार को वह केंद्र बंद रहा एवं रविवार को अवकाश होने के चलते पंजीयन नहीं हो पाए किसान पंजीयन के लिए भटकते नजर आये।

इस संबंध में एस आर एल एम के ब्लॉक प्रबंधक संजय चौहान से बातचीत की गई तो उनका कहना था कि उधर सर्वर नहीं आते हैं जिसके फलस्वरूप तीनों केंद्रों को एक साथ एनआरएलएम कार्यालय में संचालित किया जा रहा है।

किसानों को समस्या न हो जिसके लिए पंजीयन केंद्रों को अलग- अलग जगहों पर बनाया गया था लेकिन ऑपरेटरों द्वारा अधिकारियों की मिलीभगत से पंजीयन केंद्रों को एसआरएलएम के कार्यालय में एक साथ चलाया जा रहा हैं। किसानों का कहना है कि हम जब पंजीयन कराने जाते है तो पंजीयनकर्ता सर्वर न आने की बात कहकर टाल रहा है।

हम दो दिन से लगातार चक्कर काट रहे है फिर भी पंजीयन नही हो रहे है खास बात यह है कि इस भीषण समस्या के बाद भी कोई जिम्म्मेदार अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे।

पंजीयन खत्म होने की तारीख नजदीक

किसान पंजीयन की अंतिम तिथि 20 फरवरी है सर्वर की समस्या यदि ऐसे ही बनी रही तब आधे से अधिक किसान पंजीयन से वंचित रह जाएंगे सहकारी समिति के कंप्यूटर ऑपरेटर के अनुसार पिछली वर्ष 7000 के लगभग पंजीयन हुए थे इस वर्ष अभी तक पांच केंद्रों को मिला कर केवल 132 पंजीयन हो पाए।

अगर सर्वर की स्पीड बढ़ जाये तो इस वर्ष करीब 5000 हजार पंजीयन होने की संभावना है

समय व धन बर्वाद कर रहे किसान

पंजीयन कराने के लिए किसान ग्रामीण अंचल से किराया देकर करीब 10 किलोमीटर की दूरी तय कर आते है और दिन भर केंद्र पर बैठकर चले जाते है जिससे किसानों का समय व पैसे की बर्बादी भी हो रही है।