विधायक निधि लगाई ठिकानेः 1 करोड 33 लाख की लागत से बना काॅलेज तीन साल में खण्डर में तब्दील - Pichhore News

पिछोर। जिले के पिछोर विधानसभा के खनियाधाना में 2017 में बने शासकीय महाविद्यालय भवन निर्माण में विधायक निधि का जमकर दुरुपयोग किया गया है यह कमीशन खोरी के चक्कर में जिम्मेदार अधिकारियों ने अपने कमीशन के लालच में घटिया बिल्डिंग निर्माण किया गया है ।

प्रदेशभर में लगातार हो रही बड़ी घटनाओं के बाद प्रशासन सख्त नजर नहीं आ रहा है हम बात कर रहे हैं खनियाधाना के शासकीय महाविद्यालय की जो लोक निर्माण के द्वारा बनाए गए कॉलेज की पोल इस बरसात में सामने आ रही है। जहां भवन की नींव मजबूत हो या ना हो लेकिन भ्रष्टाचार की नींव ज्यादा मजबूत है खनियाधाना में शासकीय महाविद्यालय भवन निर्माण भवन भ्रटाचार की भेंट चढ़ गया है।

यह शासकीय महाविद्यालय भवन निर्माण भवन को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है। जिसका 16 जून 2017 को लोकार्पण हुआ।1 करोड़ 33लाख का कॉलेज भवन हो पीडब्ल्यूडी ने भवन बनवाया है। यह अभी से ही जर्जर होने लगा है। भवन में दीवारों पर कई जगह बड़ी-बड़ी दरारें पड़ चुकी हैं। टाइल्स उखडने लगा है। प्राचार्य कमरा जर्जर होने लगा भी जिससे भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा भी लांघि गई है

1 करोड़ 33 लाख का कॉलेज भवन हो पीडब्ल्यूडी खंडहर में तब्दील भवन

भवन में चार कमरा, एक स्टाफ कक्ष, एक प्राचार्य कक्ष, लिपिक कार्यालय, परीक्षा विभाग कक्ष, लैब दो कमरा व शिक्षकों एवं बच्चों के बैठने के लिए अलग प्रसाधन की व्यवस्था है। भवन में निर्माण एजेंसी व ठेकेदार ने ऐसी लापरवाही बरती है कि महज दो साल में ही भवन खंडहर के रूप में तब्दील होने जा रहा है।

लाखों रुपए की चपत
लोगो की मानें तो उक्त भवन का लोकार्पण लगभग तीन साल पहले हुआ है। भवन लोकार्पण के बाद कोई भी बड़े अधिकारी व जनप्रतिनिधि इस भवन का हाल देखने नहीं पहुंचा।

विधायक के समय दौरे के समय आनन-फानन में इस भवन का लोकार्पण करा दिया गया। लोकार्पण होने के बाद उक्त भवन में स्कूल तो संचालित होने लगी लेकिन ठेकेदार व अधिकारी निर्माण कार्य के आड़ में लाखों रूपए अंदर कर लिए