अतिक्रमण अभियान प्रशासन ने तो नहीं शुरू किया लेकिन भू माफियाओ ने शुरू कर दिया: रियासत कालीन नाला लीला - Shivpuri News

शिवपुरी। स्थानीय विधायक और मप्र शासन की केबिनेट मंत्री अपनी पूरी क्षमता से शहर में मास्टर प्लान लागू करवाना चाहती हैं,इसकी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं,सीमक्षा बैठक में इस प्लान पर चर्चा भी की गई थी। इस बैठक में राजे ने अतिक्रमण और अवैध कॉलोनी काटने वाले भूमाफियाओ को चिन्हित कर कार्यवाही करने के आदेश दिए थें 

प्रशासन ने अतिक्रमण अभियान शुरू नही किया केवल यातायात टीम ही शहर में यातायात सुगम बनाने के लिए अपने स्तर से काम कर रही हैं। राजस्व की टीम ने अभी तक किसी भी अवैध कॉलोनी काटने वाले पर कार्यवाही नही की हैं लेकिन भूमाफियाओ ने अतिक्रमण करना शुरू कर दिया हैं। खबर मिल रही हैं कि सिंधिया स्टेट क समय का नाला ही एक भूमाफिया ने प्लाटिंग के हिसाब से समतल कर दिया हैं। अब यह नाला केवल नक्शे पर ही दिखाई देगा। 

शमशान के सामने का नाले पर खड़ी दीवार, प्रशासन मौन

शहर के जाधव सागर तालाब के पानी का ओवर फ्लो जिस नाले से होकर गुजरता है, उस स्टेट टाईम के कैनाल नुमा नाले को शमशान के ठीक सामने स्थित पुल की तलहटी में पिछले 4 दिन से खंडा बोल्डर डाल कर और ऊपर से मोरम की लियरिंग कर पाटा जा रहा है। 

भू माफियाओं ने नाले में ही जमीन तैयार करना शुरू कर दिया है सब कुछ इतने व्यापक पैमाने पर हो रहा है कि 4 दिन में लगभग 5 बीघा से अधिक भूमि पर इस तरह का निर्माण कर दिखाई दे रहा है। यहां स्टेट टाइम के पुल की पिचिंग से सटाकर खुदाई का काम चल रहा है जबकि सरकारी भूमि में मुरम डालकर रास्ता तैयार कर दिया गया है जिसके चलते भू माफियाओं द्वारा काटी जा रही अवैध कॉलोनी जो कि अभी तक मात्र 25 से 50 रुपए वर्ग फुट कीमत की भूमि है, सरकारी फ्रंट से रास्ता मिलते ही जमीन 500 रुपए वर्ग फुट कीमत की हो जानी है, लेकिन इसके साथ ही इस नाले का अस्तित्व हमेशा-हमेशा के लिए खत्म हो जाना भी तय है।

जहां उछाल लेता था पानी वहां अब बना मैदान-

श्मशान घाट के सामने नाले के कैचमेंट एरिया में एकाएक बड़ा मैदान दिखाई देने लगा है। यह स्थिति पिछले 4 दिन में निर्मित हुई है। मौके पर जेसीबी घनघना रही हैं साथ ही बड़े पैमाने पर मैनुअल लेबर भी नाला पाटने का काम कर रही है। 

कल तक जहां पानी की लहरें दिखाई देती थी आज वहां मैदान दिखाई देना शुरू हो गया है। यदि दो एक दिन और ऐसा ही चला तो भू माफि या इस स्टेट टाइम के नाले को खत्म करने में सफल हो जाएंगे।

मैने काम को रूकबा दिया हैं:अरविन्द वाजपेयी

शिवपुरी एसडीएम अरविंद बाजपेई से जब इस संबंध में पूछा गया तो श्री वाजपेई का कहना था कि उन्हें सरकारी नाले और पुल के संबंध में हाल ही जानकारी मिली है, और उन्होंने पटवारी को काम रुकवाने के लिए बोल दिया है। 

जब उनसे कहा गया कि इस हल्के के पटवारी श्री रावत के संज्ञान में पूर्व से ही सारा मामला है, वह क्या जांच करेगा खुद चूना डलवा कर आया है। जिस पर एसडीएम का कहना था कि यदि ऐसा होता है तो वह दूसरे पटवारी या अधिकारी से वस्तु स्थिति की जांच करा लेंगे फि लहाल काम रुकवा दिया गया है।