OBC वर्ग में शामिल जातियों की अलग से हो गणना,सौंपा ज्ञापन

शिवपुरी। देश भर में ओबीसी वर्ग के साथ किए जा रहे भेदभाव से आक्रोशित ओबीसी समाज के संगठनों ने आज कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं गृहमंत्री के नाम ज्ञापन अपर कलेेक्टर श्री बालोदिया को सौंपा। ज्ञापन अभिभाषक संघ के अध्यक्ष एडव्होकेट विनोद धाकड़ के नेतृत्व में दिया गया।

ज्ञापन में ओबीसी संगठन के पदाधिकारियों ने वर्ष 2021 की जनगणना में ओबीसी वर्ग में शामिल जातियों की अलग से जातिगत गणना किए जाने की माँग की। पदाधिकारियों का कहना था कि यदि ओबीसी की जाति आधारित गणना की जाती है उनकी सही संख्या का अनुमान लग जाएगा और संख्या के ओबीसी समाज के लोकतांत्रिक, आर्थिक, सामाजिक एवं राजनैतिक विकास के लिए महत्वपूर्ण साबित होगी।

सभी ने सरकार माँग की कि जनगणना रजिस्टर में ओबीसी का कॉलम अलग से प्रकाशित किया जाए जिससे ओबीसी समाज की जनगणना सही ढंग से हो सके।
ज्ञापन सौंपने वालों में अभिभाषक संघ के अध्यक्ष एडव्होकेट विनोद धाकड़, एडव्होकेट लक्ष्मी नारायण धाकड़, एडवोकेट शिवनारायण धाकड़ एडवोकेट, महाराज सिंह धाकड़ एडवोकेट भीम प्रकाश दोहरे, एडवोकेट शंकर लाल गोयल एडवोकेट विजय।

एवं एडवोकेट जांडेल सिंह, एडवोकेट संत कुमार रावत, एडवोकेट मान सिंह कुशवाहा, एडवोकेट महाराज सिंह वर्मा, एडवोकेट दुर्गेश सिंह धाकड़, एडवोकेट जीतेंद्र धाकड़ एडवोकेट गजेंद्र सिंह धाकड़, एडवोकेट सुरेश धाकड़ एडवोकेट के अलावा ओबीसी महासभा के जिलाध्यक्ष एडव्होकेट सुरेश धाकड़, ओबीसी यूनियाइटेड फं्रट के जिलाध्यक्ष रामस्वरूप बघेल, अपाक्स के जिलाध्यक्ष दुबेजी बाथम, ओबीसी महिला जिलाध्यक्ष सीमा शिवहरे, जगन सिंह बघेल, होतम सिंह बघेल, प्रकाश रावत आदि मौजूद थे।