सांसद DR. KP YADAV ने माधव नेशनल पार्क को TIGER SAFARI के रूप में विकसित करने लिखा केन्द्रीय मंत्री जावड़ेकर को पत्र

शिवपुरी। गुना-शिवपुरी के सांसद डॉ. केपी यादव ने केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर शिवपुरी के माधव राष्ट्रीय उद्यान को रणथम्भोर नेशनल पार्क की तरह टाइगर सफारी के रूप में विकसित करने की मांग की ताकि शिवपुरी में पर्यटक आकर्षित हो सकें। श्री यादव ने केन्द्रीय मंत्री को अवगत कराया कि शिवपुरी में नेशनल पार्क के अलावा भदैयाकुण्ड, जॉर्ज कैसल का किला, नरवर का किला इत्यादि अनेक रमणीय स्थल हैं।

इस राष्ट्रीय उद्यान के विकसित होने से देश विदेश के पर्यटकों का आगमन मेरे संसदीय क्षेत्र शिवपुरी जिले में होगा जिससे क्षेत्र का विकास होगा वहीं युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।

सांसद यादव ने श्री जावड़ेकर को बताया कि मेरे संसदीय क्षेत्र शिवपुरी जिले में देश के सबसे पुराने उद्यानों में से एक माधव राष्ट्रीय उद्यान स्थित है जिसकी स्थापना वर्ष 1958 में की गई थी। इस उद्यान में वर्ष 1985 तक बहुतायात संख्या में बाघ पाए जाते थे और उस समय टाइगर सफारी की शुरूआत भी की गई थी।

जिसमें 1997 तक बाघ रहते थे, परंतु किसी कारणवश उक्त टाइगर सफारी को बंद कर दिया गया और बाघों को अन्य राष्ट्रीय उद्यान में शिफ्ट कर दिया गया। इस उद्यान में बाघों के संबंध में संबंधित विभाग द्वारा छह सदस्यीय उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया, लेकिन जिसके कोई भी सार्थक परिणाम राष्ट्रीय उद्यान के विकास के संबंध में धरातल पर दिखाई नहीं दिए।