Ads 720 x 90

घरों के ऊपर से निकल रही है मौत की लाइन, कॉलो​नी वासियो ने लिया खंभो का सहारा | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शहर के बीचों बीच स्थित दर्पण कॉलोनी में विद्युत विभाग के आला अधिकारियों की लापरवाही खुले रूप से देखने में आ रही हैं। इस कॉलोनी में विद्युत विभाग द्वारा डाली गई विद्युत लाईन बगैर विद्युत पोलो के ही डाल दी गई हैं साथ ही विद्युत लाईन कई मकानों की छत के ऊपर से गुजर रही हैं वहीं कही-कहीं पर विद्युत केबिल जमीन को छूते हुए गुजरी हैं।

 जगह-जगह पर विद्युत केबिल में लगे कट कभी भी गंभीर हादसा घटित हो सकता हैं। जिसकी जानकारी कॉलोनी के जागरूक नागरिकों द्वारा विद्युत विभाग के आला अधिकारियों को दी जा चुकी हैं लेकिन इसके बावजूद भी कोई ठोस कार्यवाही आज तक नहीं की गईर् हैं। 

दर्पण कॉलोनी निवासी नीतू गुप्ता का कहना है कि विद्युत विभाग के अधिकारी इतने लापरवाह हैं कि इस कॉलोनी के नागरिकों द्वारा खुले रूप से विद्युत केबिल में कट लगाकर खुले रूप से विद्युत की चोरी की जा रही हैं। नागरिकों द्वारा जगह-जगह पर केबिल में कट लगा दिए गए हैं। आगामी माह से बरसात का होना तय हैं। केबिल में कट लगे होने की बजह कभी भी कोई गंभीर हादसा घटित हो सकता हैं। 

इतना ही नहीं यह केबिल मकान की छतों के ऊपर से निकलने के कारण नागरिकों के सिरों से टकरा रही हैं। वही दर्पण कॉलोनी के रास्ते पर भी विद्युत पोल लगे न होने के कारण कॉलोनी के नागरिकों ने सुविधा की दृष्टि से इस विद्युत केबिल को बांस बल्ली के सहारे साईड से कर दिया हैं। नहीं तो इस केबिल से टकराकर कॉलोनी नौनिहाल बच्चे भी हादसे का शिकार हो सकते हैं। इसकी जिम्मेदारी किसकी होगी। 

जबकि इस बात की शिकायत दर्पण कॉलोनी के नागरिकों ने पूर्व में विद्युत विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को आवेदन के माध्यम से दी जा चुकी हैं लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं की हैं। कॉलोनी वासियों ने मांग की हैं कि बारिश का मौसम प्रारंभ होने से पहले ही विद्युत पोल लगाकर लाईन को दुरूस्त किया जाए। जिससे नागरिकों को राहत मिल सके। 


पाठक जी के मकान में बिद्युत केबिल से लग चुकी हैं आग
शहर की दर्पण कॉलोनी में विद्युत केबिल में जगह-जगह कट लगे होने के कारण कॉलोनी निवासी काफी परेशान बने हुए हैं। बताया जाता है कि केबिल ब्लास्ट होने के कारण पाठक जी के नवनिर्मित मकान में आग लग गई।

जिससे उन्हें काफी नुकसान हुआ और पाठक जी का पूरा सामान जलकर खाक हो गया। इतना ही नहीं इस बात की जानकारी विद्युत विभाग के आला अधिकारियों को होने के बाद भी इस केबिल को एक वर्ष होने जाने के बाद भी आज तक ठीक नहीं किया गया हैं। अब देखना यह है बारिश से पूर्व इस केबिल को बदला जाएगा या यहां के नागरिक यूं ही हादसे के शिकार होते रहेंगे।