SHIVPURI NEWS - नगर पालिका में विद्रोह, भाजपा और कांग्रेस के पार्षद एक जुट, CMO रिटर्न की मांग

Bhopal Samachar
शिवपुरी। शिवपुरी की नगर सरकार में लगातार विद्रोह देखने को मिल रहा है,आज भाजपा और कांग्रेस के पार्षद एक जुट होकर नगर पालिका अध्यक्ष की मनमानी की शिकायत कलेक्टर के पास पहुंचे और नगर पालिका अध्यक्ष गायत्री शर्मा का हटाने मांग की। इससे पूर्व शिवपुरी नगर पालिका के पार्षद भोपाल जाकर सीएम मोहन यादव से भी नगर पालिका अध्यक्ष की शिकायत करते हुए एक आवेदन सौंपा था। इस मांग की खास बात हैं कि नपा अध्यक्ष को हटाने की मांग मुख्य रूप से भाजपा के पार्षद ही कर रहे हैं इसमें उनका सहयोग कांग्रेस के पार्षद भी कर रहे हैं।

बता दें नगरपालिका अध्यक्ष गायत्री शर्मा निर्विरोध भाजपा की ओर से नपा अध्यक्ष चुनी गई थी लेकिन आज उन्हीं के कई पार्षद उन्हें पद से पृथक करने की मांग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री के बाद नपा अध्यक्ष को हटाने की मांग को कलेक्टर के पास शिकायत लेकर पहुंची। भाजपा पार्षद नीलम बघेल ने बताया कि नपा अध्यक्ष की मनमानी के चलते शहर में न ही सफाई हो पा रही है न पानी सप्लाई की व्यवस्था ठीक है। शहर के बदहाल हालातों की जिम्मेदार नपा अध्यक्ष हैं। वहीं नपा सीएमओ केशव सगर के ट्रांसफर कराने के लिए योजना बनाई जा रही है जबकि सीएमओ ने शहर में अच्छा काम किया है।

पार्षद पति व भाजपा नेता डिम्पल जैन ने बताया कि नपा अध्यक्ष के दौरा नियमों को दरकिनार कर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाजार बैठक की व्यवस्था को नपा अध्यक्ष ने पूर्व सीएम के आदेशों को दरकिनार करते हुए ध्वस्त कर दिया है। नपा अध्यक्ष न ही विधायक को पूछ रहीं है न ही किसी पार्षद को, यही वजह है कि शहर में साफ सफाई से लेकर पानी की व्यवस्था ध्वस्त पड़ी हुई है।

यह लगाए गए आरोप

01. इनके द्वारा प्रोसिडिंग रजिस्टर अपने घर रखवा रखा है जबकि यह नगरपालिका का अति महत्वपूर्ण दस्तावेज है।
02. अधिनियम की धारा 62 (4) के अंतर्गत मुख्य नगरपालिका अधिकारी द्वारा परिषद में पारित संकल्पों को 10 दिन के भीतर संकल्पों की प्रतियां निहित प्राधिकारी को नहीं भेजी जाती जो गंभीर अनियमितता की श्रेणी में आता है।
03. पार्षद विवेक अग्रवाल से अनियमित रूप से सिलेंडर की मांग की गई जिसका वीडियो वायरल हो चुका है।
04. बाजार बैठक की वसूली विभागीय तौर से कराई जाकर नगरपालिका को गंभीर क्षति पहुंचाई जा रही है। अतः ठेके की तुलना में विभागीय तौर पर जो वसूली कराई जा रही है उसका आकलन कराया जाकर आर्थिक हानि की इनसे वसूली कराई जावे।
05. नगरपालिका की फाइल अध्यक्ष के घर रखी है यह नियमों के विपरीत है। अतः इस पर लगाम लगाने हेतु सख्त निर्देश देने की कृपा करें।
06. नगरपालिका प्रकरणों की आवश्यकता को देखते हुए वकील रखे जावे, अनावश्यक रखे वकीलों की समीक्षा भी कराने की कृपा करें।
07. थीम रोड पर लगाई गई लाइट का भुगतान गलत तरीके से नगर पालिका निधि से किए गए हैं।
G-W2F7VGPV5M