SHIVPURI NEWS - बसपा नेता प्रधुम्र वर्मा एंड कंपनी पर 85 लाख की 420 का मामला सिटी कोतवाली में दर्ज

Bhopal Samachar
शिवपुरी। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस छोड़कर बहुजन समाज पार्टी से चुनाव लड़ चुके पराजित प्रत्याशी व पूर्व जनपद अध्यक्ष पोहरी रहे प्रधुम्न वर्मा उनके भाई दीपक वर्मा और सहयोगी गौरव पचौरी व नरेन्द्र अग्रवाल पर सिटी कोतवाली में एक प्लाट के मामले को लेकर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

बताया जा रहा है कि प्रद्युम्न वर्मा एंड कंपनी ने स्थानीय रेल्वे स्टेशन पुलिस लाईन रोड़ स्थित प्लॉट विक्रय को लेकर सहमति बनाई और जनवरी से लेकर अगस्त तक करीब 85 लाख रूपये भी प्राप्त कर लिए लेकिन जब रजिस्ट्री कराने का समय आया तो बसपा नेता प्रधुम्र वर्मा और उसके सभी सहयोगी पलट गए और प्लॉट की रजिस्ट्री कराने से इंकार कर दिया साथ ही ली गई राशि भी वापस नहीं की और फरियादी पर अन्य राशि प्राप्त करने को लेकर दबाब भी बनाने लगे।

इससे क्षुब्ध होकर फरियादी ने मामले की शिकायत थाना कोतवाली में की जिस पर पुलिस ने बसपा नेता प्रधुम्र वर्मा उनके भाई दीपक वर्मा व सहयोगी गौरव पचौरी व नरेन्द्र अग्रवाल के विरूद्ध धोखाधड़ी के मामले में धारा 420,406,34 के तहत मामला पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में ले लिया है।

जानकारी के अनुसार कांग्रेस नेता नरेन्द्र जैन भोला पुत्र स्वरूपचंद जैन निवासी शंकर कॉलोनी राजेश्वरी रोड शिवपुरी ने शिकायत दर्ज कराते हुए अपने साथ हुई धोखाधड़ी के बारे में बताया कि बीती 20 जनवरी 2023 को वार्ड क्र.2 कमला हेरिटेज, होटल के सामने शिवपुरी में भूमि प्लॉट स्थित ग्राम राजपुरा सरक्यूलर रोड़ पर सोनचिरैया चौराहे से सरकुलर रोड़ चौराहे तक सरकुलर रोड़ से, रोड़ से दूर 3000-3000 वर्ग फीट दोनों मिलाकर कुल 6000 वर्ग फीट के हिसाब से मौखिक रूप से क्रय किए गए थे।

यहां इस प्लॉट को फरियादी नरेन्द्र जैन भोला ने पोहरी कांग्रेस छोड़ बसपा में शामिल होकर पोहरी विधानसभा से प्रत्याशी प्रद्युम्न वर्मा, उनके भाई दीपक वर्मा पुत्र सरवन लाल वर्मा निवासी सिटी सेंटर कॉलोनी के पीछे शिवपुरी से क्रय किया था।

इस प्लॉट को लेकर एडवांस राशि बतौर 10 लाख रुपये दिनांक 20 जनवरी 2023 को इनके सहयोगी मुनीम गौरव पचौरी व नरेन्द्र अग्रवाल को दिए, साथ ही 30 लाख रुपये दिनांक 01.03.2023 को दिए व 15 लाख रुपये दिनांक 01.04.2023 को देने के संबंध में तथा 5 जुलाई 2023 को 5 लाख रुपये कुल 85 लाख रुपये रजिस्ट्री कराने के वक्त तथा प्लॉट का मौके पर कब्जा प्रार्थी को दिया गया और दीपक व प्रद्युम्न वर्मा के मुनीम उक्त लिखा पढ़ी पर हस्ताक्षर भी किए गए।

यहां प्रार्थी नरेन्द्र जैन ने दीपक व प्रद्युम्न के कहे अनुसार जब अपने प्लॉट की रजिस्ट्री को लेकर कहा तो वह टालमटोल करते हुए नजर आए और उल्टे फरियादी नरेन्द्र जैन से ही 25 लाख रुपये की मांग करने लगे। यहां फरियादी नरेन्द्र जैन ने आरोप लगाए कि उनके द्वारा 85 लाख रूपये खरीदा गया प्लॉट बसपा नेता प्रधुम्र वर्मा व उनके सहयोगियों ने किसी अन्य को विक्रय कर दिया और अपने साथ हुई अमानत में खयानत के इस मामले की शिकायत को लेकर वह पुलिस थाना कोतवाली पहुंचे।

जहां पुलिस ने इस पूरे मामले को समझते हुए बसपा नेता प्रधुम्र वर्मा,उनके भाई दीपक वर्मा, मुनीम गौरव पचौरी व नरेन्द्र अग्रवाल के विरूद्ध शुक्रवार को धोखाधड़ी को लेकर धारा 420,406,34 के तहत मामला पंजीबद्ध करते हुए प्रकरण विवेचना में ले लिया है।
G-W2F7VGPV5M