वायरल ऑडियो :दामाद जी ने फेर दिया ससुर साहब के टिकट पर पानी,षड्यंत्र के पीछे षड्यंत्र- Shivpuri News

एक्सरे ललित मुदगल @ शिवपुरी। शिवपुरी की राजनीति में पिछले 24 घंटे से एक वायरल आडियो के कारण बवाल मचा हुआ है। इस वायरल आडियो में दावा किया जा रहा है कि कोलारस के पूर्व विधायक महेंद्र यादव के दामाद और जिला पंचायत अध्यक्ष नेहा यादव के पति अमित यादव अपने समर्थक से केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के लोकसभा वाले चुनाव की चर्चा कर रहे है ओर अपशब्दों का इस्तेमाल कर रहे है। हालांकि इस आडियो की पुष्टि किसी भी प्रकार से नही की जाती है वही अमित यादव का कहना है कि यह आवाज मेरी नहीं है राजनीतिक टारगेट किया जा रहा है,लेकिन इस विडियो के वायरल होने का क्या है षड्यंत्र आइए इसका एक्सरे करते है।

यह बातचीत काफी पुरानी है और उस समय की है जब ग्वालियर के महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया लोकसभा का चुनाव हारे थे। इस चर्चा में सांसद जी शब्द सुना जा रहा है इस आडियो के अनुसार अमित यादव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के लोकसभा चुनाव में खिलाफ काम किया है। इस ऑडियो में केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति अपशब्द भी कहे गए है। शिवपुरी समाचार इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है। वही अमित यादव भी इस ऑडियो में अपनी आवाज नहीं होने का दावा करते हुए एसपी शिवपुरी को इस मामले की जांच कराने का आवेदन देने की बात कर रहे है।

लोकसभा चुनाव सिंधिया हारे अप्रत्याशी खबर

ग्वालियर के महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर राजघराने के पहले ऐसे सदस्य है जो कोई चुनाव हारे है वह भी अपने सांसद प्रतिनिधि रहे डॉ केपी यादव से। लोकसभा चुनाव भी ज्योतिरादित्य सिंधिया एक लाख वोटो से हारे थे। जाहिर है षडयंत्र अपनो ने ही किया था। शिवपुरी के कोलारस क्षेत्र ओर अशोकनगर जिला यादवों का बाहुल्य क्षेत्र है। जाहिर है कि भाजपा को देश के प्रधानमंत्री के नाम पर वोट मिले तो वही यादवो ने भी समाजवाद को बढ़ावा दिया और ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ वोट किया,उन्होने भी जो अपने सिंधिया के थे। वैसे कहा जाता है कि सिंधिया का दूसरा घर स्व:रामसिंह यादव का माना जाता है।

पूर्व से ही इस वायरल आडियो की चर्चा

राजनीतिक पंडितो का कहना है कि इस ऑडियो की चर्चा बहुत दिनो से हो रही थी। कोई ऑडियो किसी के मोबाइल में दबी है जो कोलारस के राजनीति में उथल पुथल मचा सकती है। दावा किया जा रहा है कि यह ऑडियो आज वायरल हुई है इससे पूर्व ही यह श्रीमंत के दरवार में पहुंच चुकी है और सिंधिया खेमे के कांग्रेस नेताओं ने यह ऑडियो अपनी जगह पहुंचाई है,इसके साथ यह भी सबूत दिए गए थे कि इन इन पॉलिंगो से चुनाव हारे है ओर कारण अपने ही रहे है।

अब ऑडियो हुई वायरल, पूर्व विधायक सबसे ताकतवर उम्मीदवार

विधानसभा चुनाव सिर पर खडे हो गए है। राजनीति में उबाल आने लगा है कोलारस विधानसभा की बात करे तो भाजपा से विधानसभा टिकट के दावेदारों में रनिंग विधायक वीरेंद्र रघुवंशी,पूर्व विधायक महेंद्र यादव,सहित कई ताकतवर नेता टिकट की लाइन में है। ऐसा माना जा रहा है कि पूर्व विधायक महेंद्र यादव को राज्य मंत्री सिर्फ इस कारण नहीं बनाया गया था कि वह टिकट के दावेदार है और टिकट मिल सकता है।


कही अब दमाद साहब की कथित इस अपशब्द भरी ऑडियो से ससुर साहब के टिकट पर पानी नही फिर जाए। अब इस आडियो काण्ड के बाद ससुर साहब महाराज साहब को कितना कन्वेंस कर सकते है यह तो समय ही बता सकता है लेकिन यह भी सत्य है अगर महेन्द्र यादव के टिकट की दम से पैरवी करते तो महाराज साहब ही करते।

षड्यंत्र के पीछे षड्यंत्र

केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का चुनाव हारने के कई कारण हो सकते है लेकिन अपनो की घात को भी अस्वीकार नहीं किया जा सकता है। कोलारस क्षेत्र में चर्चा थी कि पूर्व विधायक महेन्द्र यादव के बेटे की शादी में में सिंधिया सरकार ने शिरकत नही की थी,उस समय भी इस आडियो की चर्चा हो रही थी। अब यह आडियो वायरल होकर बवाल मचा रही है।

जाहिर है और स्पष्ट भी है कि पूर्व महेन्द्र यादव के विरोधियों ने विधानसभा चुनाव से पूर्व यह आडियो वायरल कर दिया जिससे पूर्व विधायक महेंद्र यादव के टिकट पर संकट खडा हो सकता है और यह षड्यंत्र किया गया हैं,लेकिन आडियो के शब्दों को गौर से सुने तो उसमें भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के चुनाव हारने का षड्यंत्र छुपा है।