Shivpuri News- कोतवाली में हाई वोल्टेज ड्रामा, यातायात पुलिस और सांसद प्रतिनिधि के बीच विवाद

शिवपुरी
। यातायात सप्ताह चल रहा है। पुलिस लोगों को यातायात के नियमों का पालन करने की समझाइश पर चालानी कार्रवाई कर रही है। इसी क्रम मे एक बाइक की चालानी कार्रवाई को लेकर यातायात पुलिस और सांसद प्रतिनिधि में विवाद हो गया। विवाद इतना बडा कि मामला कोतवाली तक जा पहुंचा है। भाजपा नेता ने अपने समर्थक कोतवाली में एकत्रित कर लिए है वही यातायात प्रभारी रणवीर सिंह भी कोतवाली पहुच गए है।

जानकारी के अनुसार भाजपा नेता अजमेर सिंह लोधी बिना हेलमेट के बाइक चलाते हुए माधव चौक चौराहे से निकल रहा था, बिना हेलमेट की बाइक को चलाते देख यातायात कर्मियों ने भाजपा नेता को रोक लिया और चालान करने की बात कही। अजमेर लोधी ने मोबाइल से सांसद प्रतिनिधि से चालान करने की बात कही और मौके पर आने की बात कही।

बताया जा रहा है कि सांसद प्रतिनिधि मयंक दुबे मोके पर पहुंच गए और अजमेर सिंह की बाइक का छोडने की बात करने लगे लेकिन यातायात प्रभारी रणवीर यादव ने यह बात नही मानी और बाइक छोडने से मना कर दिया।

इस बात पर सांसद प्रतिनिधि बड़क गए और कहा आप मुझे नही जानते क्या। इस बात पर विवाद बढ़ गया। यातायात पुलिस ने बाइक को कोतवाली पहुंचा दिया। बाइक को कोतवाली पहुंचने पर युवा नेता अधिक बड़क गया और अपने समर्थको के साथ कोतवाली जाकर हंगामा करने लगा। 

सांसद प्रतिनिधि ने कोतवाली में जमकर हंगामा करते हुए कोतवाली में पदस्थ एएसआई पर थप्पड़ मारने के आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग करने लगे। बताया जा रहा है कि मयंक दुबे अपने समर्थको के साथ कार्रवाई करने की मांग पर अड़े हुए हैं। खबर लिखे जाने तक वरिष्ठ भाजपा नेताओं के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के फोन पहुचने शुरू हो गए है। 

इस मामले मे अपने राम का कहना है कि भाजपा नेताओं को इस प्रकार हंगामा नहीं करना चाहिए। यातायात सप्ताह ओर बिना हेलमेट पर बाइक सवारों पर चालान करना सुप्रीम कोर्ट ने भी गाइडलाइन जारी की है। मयंक दुबे का यह पुलिस कर्मियों से यह दूसरा विवाद है।