Pichhore News- यह है बिजली का मौत वाला खंभा, एक दर्जन जानवर की मौत, 1 साल से आ रहा है करंट

अतुल जैन @ बामौरकला।
पिछोर विधानसभा की अंतिम ओर जिले के बॉर्डर पर स्थित बामौकलां पचायत के आजाद नगर में एक बिजली का खंभा लगा है इस बिजली के खंभे में पिछले 1 साल से करंट आ रहा है। इस खंभे में करंट आने के कारण एक साल में 1 दर्जन से अधिक जानवर इससे चिपक कर मर गए। आजाद नगर के निवासियों का कहना है कि कई बार जिम्मेदारो से शिकायत कर दी लेकिन इस मौत वाले खंभे से मुक्ति नही मिल रही है।

बामौरकला के आजाद नगर में रहने वाले निवासियों ने बताया कि लगातार इस गली के तीनो खंभो में करंट आता है। एक खंभा नीचे से गल चुका है इसको एक मकान के सहारे से तार से बांधकर रखा गया है अगर तार को निकाल दे तो यह खंभा कभी भी गिर सकता है। जब यह खंभे गाढे गए तो जब इस गली मे कालिया नहीं थी। इस कारण नालियां बनाई गई तो यहां खंभे नालियों में आ गए अब यहां से दिन भर पानी बहता है लगता है कि यहां से उन्हें जमीन से अतिरिक्त अर्थ मिल रहा है इसलिए इनमें करंट आता है और वर्षा काल में अधिक खतरा हो जाता है।

इन खंभो को बदलने का प्रयास पूर्व सरपंच मनोरमा मधुर गुप्ता ने किया था लेकिन खंभों को गाढने के लिए गड्ढे नहीं खुदे नीचे पत्थर आने के कारण परेशानी आ रही थी। इस कारण यह खंभे बदले नहीं जा सके। बिजली विभाग की समझ में नहीं आ रहा है कि इन खंभों में कहां से करंट आ रहा है। इस कारण यहां कई घटनाएं हो चुकी है।

सूचना बोर्ड लगा चुके है

आजाद नगर की इस गली में प्राइवेट कोचिंग चलाने वाले विवेक कटारे ने बताया इस ढेडे वाले खंभे के सामने ही मेरा घर है और में बच्चों को प्राइवेट कोचिंग देता हूं सबसे पहले बच्चो को यही बताता हूं कि इन खंभों से दूर रहना। इन खंभो में पिछले एक साल से करंट आ रहा है एक दर्जन से अधिक मवेशी इससे चिपक चुके है और जो लोग इन खंभों के विषय में नहीं जानते वह झटके खा चुके है। मैने कई बार सूचना बोर्ड इस खंभो पर लगाया है। इन खंभों लेकर बिजली विभाग के पिछोर के वरिष्ठ अधिकारियों को कई बार शिकायत दर्ज करा चुके है लेकिन कार्रवाई नही हुई है।