Shivpuri News- करैरा में युवक की हत्या, आज होनी थी वाइफ की डिलेवरी-खुशी सुनने से पहले ही दुश्मनी की भेट चढ गया

कौशल भार्गव करैरा।
शिवपुरी जिले के करैरा में ससुराल जा रहे एक युवक की पुरानी रंजिश के चलते गांव के छह लोगों ने पीट पीट कर निर्मम हत्या कर दी। परिजन रात भर आरोपियों के खिलाफ करैरा थाना में नामजद हत्या की धाराओं में मामला दर्ज दर्ज करवाने को लेकर बैठे रहे जब सुनवाई नहीं हुई तो परिजन सहित ग्रामीणों ने करैरा थाने का घेराब करते हुए सड़क को जाम कर दिया।

एक घंटे के बाद पुलिस ने मशक्कत के बाद जाम खुलवाया और छह आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं में मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी।

जानकारी के अनुसार खेराई गांव रहने वाला 26 वर्षीय अर्जुन परिहार पुत्र रमेश परिहार बीती शाम अपने ससुराल झांसी जिले के डगरवा गांव के लिए निकला था इसी दौरान उसे जब वह टीला वायपास रोड़ पावर हाउस के पास जितेंद्र यादव, धर्मेंद्र यादवए सुकून यादवए मनोहर यादव अख्तर यादवए कलूटी यादव ने रोक लिया और उसकी निर्मम हत्या कर दी और मौके से फरार हो गए। सूचना के बाद पहुँची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम में रखवा कर परिजनों तक सूचना पहुँचा दी थी।

नहीं हुई सुनवाई तो कर दिया चक्का जाम .
मृतक अर्जुन के भाई राजबहादुर ने बताया कि वह रात भर करैरा थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए अपने परिजनों के साथ बैठे रहे परंतु थाने में कोई सुनवाई नहीं हुई। जबकि उसके भाई की हत्या जितेंद्र यादव धर्मेंद्र यादव सुमन यादव मनोहर यादव अख्तर यादव कलूटी यादव के द्वारा की गई थी।

जब दोपहर तक सुनवाई नहीं हुई तो इसके बाद उन्होंने सड़क को जाम कर हत्या की धाराओं में मामला दर्ज करने की मांग की। राजबहादुर से बताया कि इन सभी से पुरानी रंजिश चली आ रही है। पूर्व में इन्हीं लोगों ने अर्जुन, जितेंद्र और विनोद सेन को झूठे केस में फंसा कर जेल पहुंचा दिया था। पांच दिन जेल में रहकर अर्जुन, जितेंद्र और विनोद सेन छुटे थे। इसी रंजिश के चलते अर्जुन की घेरकर निर्मम हत्या कर दी।

पत्नी थी गर्भवती, डिलीवरी कराने जा रहा था झांसी 
मृतक अर्जुन परिहार के भाई राजबहादुर ने बताया की अर्जुन की पत्नी गर्भवती है उसे आज डिलीवरी के लिए झांसी के अस्पताल में भर्ती कराना था इसी के लिए उसका भाई अर्जुन मोटरसाइकिल से अपनी ससुराल जा रहा था अर्जुन घर से अस्पताल सहित अन्य खर्चों के लिए लेकर निकला था। संभवत आज अर्जुन देर शाम तक पिता बनने की खुशी सुना सकता था परन्तु इससे पहले रंजिशन अर्जुन की हत्या कर दी गई।