शिवपुरी के 16 बच्चो की आयुष्मान भारत योजना के तहत होगी भोपाल के अनंत हार्ट हॉस्पिटल में सर्जरी- Shivpuri News

शिवपुरी।
हृदय रोग से पीड़ित 16 नौनिहालों की निशुल्क हृदय रोग सर्जरी भोपाल के अनंत हार्ट हॉस्पीटल में होगी। इन बच्चों का सर्जरी हेतु चिन्हाकन रेडक्रास सोसायटी एवं जिला स्वास्थ्य समिति के संयुक्त तत्वाधान में स्थानीय कल्याणी धर्मशाला में आयोजित हृदय रोग निदान शिविर में किया गया। शिविर में शिवपुरी नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती गायत्री शर्मा ने कहा कि मानव सेवा से बडा कोई धर्म नहीं है।

आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत आयोजित हृदय रोग निदान शिविर को मुख्य अतिथि की आंसदी से संबोधित करते हुए नगर पालिका अध्यक्ष ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रथम सरसंघचालक डॉ केशवराव हेडगेवार ने नर सेवा नारायण सेवा का मंत्र हमें दिया है। उसी मंत्र को हम लक्ष्य मानकर काम कर रहे हैं।

भारतीय रेडक्रास सोसायटी द्वारा मासूम हृदय रोगियों के उपचार हेतु यह शिविर न केवल प्रशंसनीय है बल्कि अनुकरणीय भी है। हमें अपने गली मोहल्ले में जहां भी ऐसे बच्चे मिले उनके उपचार के लिए प्रयास करने चाहिए। क्योंकि मानव सेवा से बड़ा कोई बड़ा धर्म नहीं है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता रेडक्रास सोसायटी के चेयरमेन दीवान अरविंद लाल ने की तथा स्वागत वक्तव्य में रेडक्रास उपाध्यक्ष व बरिष्ठ पत्रकार आलोक एम इंदौरिया ने स्वास्थ्य विभाग को हृदय रोग निदान शिविर जैसे आयोजन करने के लिए अवसर प्रदान करने पर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए और अनंत हार्ट हॉस्पिटल के चिकित्सकों से आशा की किरण इन बच्चों में जीवन में प्रकाशित करने की अपेक्षा की।

कार्यक्रम में आरबीएसके योजना तथा आयुष्मान भारत निरामय योजना पर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एनएस चौहान ने प्रकाश डाला। आरबीएसके चिकित्सकों की उक्त कार्य में मेहनत के लिए प्रशंसा की। कार्यक्रम में अनंत हार्ट हॉस्पिटल से आए वरिष्ठ कार्डियोलॉजिस्ट डॉ प्रशांत श्रीवास्तव, डॉ बसी मोहम्मद, डॉ ब्रजेश अहिरवार शॉल तथा पुष्पहार से अभिनंदन किया तथा पूर्व में सर्जरी करा चुके दो बच्चे कुण् सोनी व कुण् बाथम सहित परिजनों का माला पहनाकर उत्साहवर्धन किया।

कार्यक्रम में मंचासीन रेडक्रास सोसायटी के सचिव समीर गांधी, सह सचिव राहुल गंगवाल पार्षद अरविंद ठाकुर, पार्षद अमरदीप शर्मा भी रहे। कार्यक्रम का संचालन अखिलेश शर्मा ने किया तथा आभार प्रदर्शन डीपीएम डॉ शीतल प्रकाश व्यास ने किया।

हृदय रोग निदान शिविर राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतर्गत 78 बच्चों ने पंजीयन कराया जिसमें से हृदय सर्जरी के लिए 16 बच्चों का चिन्हांकन किया गया 08 बच्चे हायर सेंटर हेतु रेफर किए गए 10 बच्चों का फालोअप पर रखते हुए 3 से 6 माह बाद पुनः परीक्षण हेतु बुलाया गया तथा कई बच्चे मेडीकल मैनेजमेंट पर रखे गए।

इसी प्रकार आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत 23 महिला पुरुषों ने पंजीयन कराया जिनमें में 7 लोगों को एंजियोप्लास्टी के लिए चिन्हांकित किया गया। शेष को मेडीकल मैनेजमेंट सहित एक से दो माह के फालोअप रखा गया।