Shivpuri News- सिंध में क्रेन से उतरी मां वैष्णो देवी, बलूंस की बारिश हुई, श्रद्धालु झूम उठे

काजल सिकरवार@ शिवपुरी। शहर में पिछले 30 सालों से माॅ वैष्णो देवी का दरबार वैष्णो देवी समिति गांधी चौक द्वारा लगाया जा रहा हैं। नवरात्रि के प्रथम दिन से विभिन्न कार्यक्रम होते है। इस बार इस दरवार में मां वैष्णो की 8 फुट की प्रतिमा,मा अद्र् कुमारी की 6 फुट की प्रतिमा और भैरो बाबा की आर्कष प्रतिमा की स्थापना की गई थी। दशहरे की दिन देर शाम को एक विशाल विसर्जन शोभा यात्रा शहर के विभिन्न मार्गो से निकाली गई

आकर्षक विमान सजाए गए पहाडावाली का

समिति के सदस्य प्रयास हनी सिंघल ने बताया कि मां पहाड़वाली की विसर्जन शोभायात्रा के लिए 2 ट्रोले मंगवाए गए। इन टालो को सुंदर विमान का रूप दिया गया। फूलों से सजाया गया और ट्रोला पर मां वैष्णो माई का विमान बनाया गया और दूसरे ट्रोला पर मां अद्र् कुमारी का विमान बनाया गया वही मां के कोतवाल भैरव बाबा को एक प्लेटफार्म पर आकर्षक रूप से सजा कर ले जाया गया।

बैंड-बाजे और डीजे ढोल ताशे बजे मां की शान में

इस शोभा यात्रा में बैंड और डीजे सबसे आगे थे,साथ में माताओ के विमान चल रहे थे। इस यात्रा में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया और माता के जयकारे के साथ भक्ति भरे भजन पर झूम रहे थे। ढोल और ताशे जब बज रहे थे और आमजन अपनी छतो से पुष्प वर्षा कर रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि मानो देवता स्वयं आकर पुष्प वर्षा कर रहे हो।

शाम 7 बजे से शुरू होकर सुबह सिंध पहुंचा माता का काफिला

माता की विसर्जन शोभायात्रा देर शाम 7 बजे गांधी चौक से शुरू हई जो धर्मशाला रोड,आर्य समाज रोड,कस्टम गेट,निचला बाजार,टेकरी ओर सदर बाजार से होकर हनुमान चौराहे से होते हुए दो बत्ती वाले रूट से अमोला सिंध नदी पर पहुंची। जहां माता की प्रतिमाओं को क्रेन के सहारे सिंध नदी में विसर्जन किया गया।

वेलून वर्षा रही आकर्षण का केन्द्र

माता की इस विसर्जन यात्रा का शहर में अनेको स्थानो पर स्वागत किया गया। इसी क्रम में धर्मशाला रोड पर पवन पाइप वालो ने माता पर पुष्प वर्षा के साथ बेलून वर्षा की। वही शोभायात्रा में उपस्थित सभी लोगो को कचैडी रूपी प्रसाद का वितरण किया गया।