SHIVPURI में कंस जैसी भविष्यवाणी के कारण 2 साल के मासूम की हत्या- NEWS TODAY

शिवपुरी। सिटी कोतवाली अंतर्गत आने वाले मनियर क्षेत्र में एक सौतेले बाप ने अपने ढाई साल के मासूम की हत्या कर दी। उसकी पत्नी यानि बच्चे की मां ने बताया कि उसके एक दोस्त ने भविष्यवाणी की थी कि या बेटा तेरा काल है, तेरी मौत का कारण बनेगा इसलिए उसने अपने बच्चे की हत्या कर दी। समाचार लिखे जाने तक पुलिस हत्यारे को पकड़ नहीं पाई है।

मृतक जरसी उम्र ढाई साल की मां रानी आरोपी लखन कुचबंदिया की दूसरी पत्नी है। रानी से उसने महज डेढ़ महीने पहले ही शादी की है। जस्सी आरोपी लखन का सौतेला बेटा था। लखन कुचबंदिया की पहले से एक पत्नी दीपा है जिससे करीब 10 साल पहले उससे शादी की  थी।

पूरा परिवार दो कमरों के एक मकान में साथ में रहता है। इसी क्रम में मंगलवार की दोस्त रवि व टक्के शराव पिलाने उसे ले जाने के लिए आए।रानी के अनुसार उसी के सामने रवि व टक्के ने लखन से कहा कि तेरा यह बेटा ही बड़ा होकर तुझे मार डालेगा।  रानी ने बताया कि उन दोनों ने लखन के दिमाग में यह बात इस तरह भर दी कि लखन अपने सौतेले बेटे अस्सी को अपना काल समझने लगा।

इसी के चलते मंगलवार की रात को ही उसने जस्सी को एक कमरे में बंद करके पीट पीट कर मार डाला और दीवान में छिपा दिया। इस दौरान लखन ने रानी दीपा सहित अन्य बच्चों को दूसरे कमरे में बंद कर दिया। करीब 24 घंटे बाद बुधवार की रात को जब घर से दुर्गंध सी आई पड़ोसी ने पुलिस को सूचना दी। रानी कहना है कि पहले रवि और टक्के पहले सजा दी जाए क्योंकि उन्होंने मेरे पति को इस बात के लिए भड़काया था। लखन पर अवैध शराब की तस्करी, मारपीट, रंगदारी के कई मामले दर्ज हैं।


महीने भर पहले बेटी को जमीन पर मार दिया था
दीपा ने बताया कि लखन ने एक महीने पहले ही उसकी 7 साल की बेटी नदी को भी हाथ से पकड़ कर जमीन पर पटक दिया था। इससे नदी को गंभीर चोट आई और वह काफी समय तक वही रही। दीपा का कहना है कि वह किस्मत से उस दिन का गई नहीं नदी भी जस्सी की तरह ही मौत के आगोश में समा जाती। दीपा चाहती है कि उसे और उसके बच्चों को लखन से छुटकारा मिल जाए। वह भीख मांग कर और दूसरी की मजदूरी करके अपना पेट भर लेंगी, लेकिन ऐसे खूखार इंसान के साथ वह जिंदगी नहीं जी सकती है।

की रात को जब घर से दुर्गंध सी आई पड़ोसी ने पुलिस को सूचना दी। रानी कहना है कि पहले रवि और टक्के पहले सजा दी जाए क्योंकि उन्हीं ने मेरे पति को इस बात के लिए भड़काया था। लखन पर अवैध शराब की तस्करी, मारपीट, रंगदारी के कई मामले दर्ज हैं।

रानी ने बच्चे की परवरिश के लिए की थी दूसरी शादी
आरोपी लखन कुचबंदिया की दो पत्नियां हैं। पहली पत्नी का नाम दीपा है, जो करीब 15 साल से लखन के साथ है। दीपा के पांच बच्चे हुए। इनमें से दो की बीमारी से मौत हो चुकी है। दीपा की दो बेटियां और एक बेटा भी उसके साथ रहता है। लखन की दूसरी पत्नी रानी है। लखन डेढ़ महीने पहले ही उसे शादी करके लाया है। रानी ने बताया कि उसका पहला पति उसके साथ मारपीट करता था। उसने घर से निकाल दिया। उसका एक ढाई साल का बेटा थाए उसके पालन पोषण के लिए उसने लखन से डेढ़ माह पहले शादी कर ली थीए तभी से वह उसके साथ रह रही थी।