Shivpuri News- बेटे ने कर दिए लडकी के फोटो वायरल-पिता के पैर में मारी गोली ओर कुल्हाडी से काट दियाः मौत

पवन पाठक पिछोर। खबर जिले के पिछोर विधानसभा में आने वाले गांव पंचायत कछौआ में शनिवार-रविवार की रात 13 लोगो ने मिलकर एक 45 वर्षीय कंट्रोल संचालक की हत्या कर दी। बताया जा है कि मृतक के पुत्र ने गांव के किसी लडकी के फोटो वायरल कर दिए थे। इस मामले में पंचायत भी बुलाई गई थी लेकिन बात नहीं बनी और 45 वर्षीय कंट्रोल संचालक के पैर में गोली मार दी और सिर में कुल्हाड़ी मार दी,जिससे उसकी मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार शनिवार इतवार की दरमियानी रात ग्राम पंचायत कछौआ में चल रही रामलीला देख कर अपने घर लौट रहे कंट्रोल संचालक अच्छे लाल पुत्र उम्र 45 साल श्यामलाल रजक सरपंच अजय लोधी के साथ घर लौट रहा था रास्ते मे बिहारबरी नामक स्थान पर शंकर जी के मंदिर के पास ग्राम के ही श्रीराम पाल, इंद्रपाल कदम पाल, जीतू पाल,बृजेश पाल,कुंअरराज पाल,जगदीश पाल,अनूप पाल,जनवेस पाल,सेवक पाल तथा सुनील लोधी, कल्ला लोधी और भाईसाब लोधी निवासी ग्राम कछुआ ने अच्छे लाल को रोक लिया।

बताया जा रहा हैं कि हथियारों व लाठियों से लैस यह लोग अच्छेलाल को नजदीक ही स्थित अपने घर खींच कर ले गए वही साथी अजय लोधी सरपंच ने अच्छेलाल के परिजनों को घटना की सूचना दी तब मृतक के परिजन आरोपियों के घर अच्छेलाल को छुड़ाने पहुंचते उससे पहले ही हमलावरो ने अच्छेलाल के पैर में गोली मार दी ओर सिर पर कुल्हाडी से लगातार बार किए जिससे उसकी मौत हो गई।

यह बोला मृतक का पुत्र
फरियादी मृतक के पुत्र पुष्पेंद्र रजक 22 वर्ष ने बताया कि बाद में मेरे पिता अच्छेलाल को सभी 13 लोगों ने लाठियों लुहागियो कि अपने घर पर मार कर सड़क पर कुंवर राजपाल के घर के सामने फेंक दिया,अच्छेलाल के पैरों में गोली और सिर में कुल्हाड़ी भी मारी गई वही पूरे शरीर पर निर्ममता से वार किए गए हम देर रात सड़क से उठाकर पिछोर अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया ।

पुलिस को घटना की सूचना दी गई जिस पर पुलिस ने सभी 13 आरोपियों के खिलाफ हत्या सहित कई अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया हैं। पुलिस को रिपोर्ट के अनुसार हत्या की वजह सरपंच अजय का विवाद आरोपी अनूप पाल और भाई साहब लोधी के बीच जमीनी विवाद बताया जाता है जिसमें मृतक ने अजय का साथ दिया था।

हत्या का कारण वायरल फोटो
बताया जा रहा है कि मृतक के लड़के देवेन्द्र ने पाल समाज के आरोपियों में से किसी की लड़की का फोटो खींचकर सोशल साइड पर वायरल कर दिया था सोशल साइट पर पड़े फोटो की जानकारी लड़की के परिजनों ने ली तो मृतक के पुत्र का नाम सामने आया और इस संबंध दो-तीन दिन पूर्व ही ग्राम में पाल एवं रजक समाज के लोगों को लेकर लड़की के परिजनों ने एक पंचायत बुलाई लेकिन मामला नहीं सुलझ पाया और यह घटना घटित हो गई घटना से ग्राम में सन्नाटा छाया हुआ हैं।