बेबी की डायरी ने उगल दिया SAF के जवान का नाम, संबंध बनाने के बाद भी शादी से मुकरा- Shivpuri News

शिवपुरी। जिले के पोहरी कस्बे में बीते रोज अपने सरकारी निवास पर फांसी लगाकर जिस महिला कर्मचारी बेबी जाटव ने आत्महत्या की थी, उसके पास से मिले सुसाइड नोट से उसकी आत्महत्या का कारण स्पष्ट हुआ है।

सुसाइड नोट में मृतिका ने जिक्र किया था कि उसके प्रेम संबंध एसएएफ के जवान जयदीप भार्गव निवासी विजयपुर से थे, जो कि 18वीं बटालियन में पदस्थ है। जवान ने उससे शादी करने का झांसा दिया था। लेकिन फिर उसने शादी करने से इंकार कर दिया। दो माह पहले भी पोहरी एसडीएम की रीडर बेबी जाटव ने आत्महत्या करने का प्रयास किया था। पुलिस ने सुसाइड नोट और मृतिका के मोबाइल फोन को भी जब्त कर लिया है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम किया है।

महिला की डायरी में सुसाइड नोट मिला है
सूत्रों के अनुसार महिला ने उल्लेख किया है कि उसके पति की मौत के बाद उसे उसके स्थान पर अनुकंपा नियुक्ति मिली थी। पति की मौत के बाद उसके प्रेम प्रसंग आरक्षक जयदीप भार्गव से हो गए और वह लगातार उसे शादी का झांसा देता रहा। परंतु अब वह शादी करने को तैयार नहीं था।

इसी बात को लेकर वह परेशान रहने लगी थी। महिला क्लर्क ने दो माह पहले भी आत्महत्या करने की कोशिश की थी। लेकिन इसके बाद भी जयदीप शादी के लिए तैयार नहीं हुआ तो उसने आत्महत्या कर ली। सूत्रों के अनुसार इस मामले में सुसाइड नोट मिलने के पश्चात एसएएफ में पदस्थ आरक्षक पर मामला कायम हो सकता है।

SDM ने की थी आरक्षक की पुलिस से शिकायत

दो माह पहले महिला बेबी जाटव ने एसडीएम कार्यालय में आत्महत्या का प्रयास किया था, तब उसे बचा लिया गया था। उस दौरान एसडीएम ने बेवी जाटव से आत्महत्या का प्रयास क्यों किया। इस बारे में पूछताछ की तो महिला ने आरक्षक भार्गव का नाम लिया कि वह उससे संबंध बनाने के बाद शादी नहीं कर रहा।

इस पर बताया जाता है कि एसडीएम ने पुलिस में भी शिकायत की थी। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। यदि उस समय पुलिस कार्रवाई कर लेती तो महिला क्लर्क की जान नहीं जाती।

इनका कहना है.
पुलिस ने मृतिका के सुसाइड नोट डायरी और फोन आदि को जब्त किया है। महिला के किसी पुलिसकर्मी के साथ संबंध सामने आए हैं। वह पुलिसकर्मी कहां पदस्थ था, इसकी पड़ताल की जा रही है। मामले में जो भी व्यक्ति महिला को आत्महत्या करने के लिए दुष्प्रेरित करने का दोषी पाया जाएगा, उस पर कानून अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
SS मुमताज, SDOP पोहरी