अमर क्रांतिकारी तात्या टोपे की बलिदान भूमि में उनके नाम के साथ खिलवाड़, पढिए पूरी खबर

शिवपुरी
। शिवपुरी जिले की पहचान अमर शहीद तात्या टोपे के नाम के साथ खिलवाड़ उनकी ही कर्मभूमि पर किया जा रहा हैं,अपमान भी छाप कर किया गया हैं और इस ओर किसी का भी ध्यान नहीं गया हैं। शहर के बीचो बीच से निकली थीम रोड के दोनो ओर प्रवेश द्वार बनाए गए हैं,  इन प्रवेश द्वार पर बडे बडे अक्षरो में लिखा गया है कि तात्यातोपे की कर्मभूमी में पधारने पर धन्यवाद,इस शब्द को फिर आप गौर से पढ़िए अमर शहीद तात्या टोपे की जगह तात्यातोपे और कर्मभूमि की अशुद्ध लिखा गया हैं।

वही इस प्रवेश द्वार पर शिवपुरी विधायक और प्रदेश की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया का फोटो और पदनाम सही लिखा हैं। अमर शहीद तात्या टोपे के नाम खिलवाड़ किया हैं। ऐसा नहीं है कि केवल यह एक ही गेट पर हुआ शहर के दोनो ओर लगाए गए प्रवेश दार पर ऐसा ही किया गया हैं।

अमर शहीद के बलिदान दिवस पर रहता हैं शिवपुरी में अवकाश

18 अप्रैल को अमर शहीद तात्या टोपे के बलिदान दिवस के रूप में मनाया जाता है,अमर शहीद तात्या टोपे को शिवपुरी में ही फांसी दी गई थी,इस दिन अमर क्रांतिकारी की याद में शिवपुरी में तात्या टोपे पार्क में मेला भरता हैं याद किया जाता हैं। इस कार्यक्रम में शिवपुरी के सरकारी मशीनरी सहित विधायक मंत्रीगण भाग लेते हैं,कार्यक्रम का आयोजक मप्र की सरकार होती है। अमर शहीद के बलिदान दिवस पर सरकारी अवकाश भी घोषित है,ऐसे अमर शहीदों के नाम के साथ खिलवाड़ शहर के प्रवेश द्वारो पर किया जा रहा हैं।

नाम से खिलवाड़ अक्षम्य अपराध

अमर शहीद तात्या टोपे को शिवपुरी कर्मभूमि के साथ उनकी पुण्य भूमि है,क्यो की अमर शहीद को यहां अंग्रेजों ने फांसी दी थी। अमर शहीद के नाम के साथ ऐसा खिलवाड़ अक्षम्य अपराध है इसे तत्काल सुधारा जाए।
एड.रूपकिशोर वशिष्ठ,संस्थापक 57वीं शोध संस्थान