Shivpuri News- पटरी पर पर्यटन: माधव नेशनल पार्क में खुले में रहेगा टाइगर,सभी बाधाएं दूर

शिवपुरी। शिवपुरी का माधव नेशनल पार्क वर्षो से टाइगर विहिन हो चुका हैं,इसमें अब टाइगर की दहाड़ फिर से सुनाई देगी। शिवपुरी में टाइगर आने की राह में सभी प्रकार की बाधाएं दूर हो चुकी हैं। अब नवंबर दिसंबर में टाइगर शिवपुरी आ सकते हैं।

फ्री रेंज टाइगर लाने के लिए माधव राष्ट्रीय उद्यान को केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री भूपेंद्र यादव ने टाइगर की पुनर्स्थापना के लिए अनुमति दे दी है। इसमें पांच वाघों को यहां पर चरणबद्ध तरीके से पुनर्स्थापित किया जाएगा। पहले चरण में तीन टाइगर शिवपुरी के नेशनल पार्क में लाए जाएंगे। इसके लिए नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी ने पहले ही स्वीकृति दे दी थी और प्रस्ताव केंद्रीय मंत्री के पास भेज दिया था। अब केंद्रीय मंत्री की ओर से भी हरी झंडी मिल गई है।

स्थानीय अधिकारियों के अनुसार पहले चरण में तीन वाघ आएंगे जिनमें दो टाइग्रेस और एक टाइगर होगा। पहले चरण के टाइगर नवंबर दिसंबर तक आ जाएंगे। इसके बाद यह किस तरह से यहां रहते हैं और किस तरह खुद को अनुकूल करते हैं, उसके अध्ययन के आधार पर अगले चरण में दो और टाइगर लाए जाएंगे। यह पांच बाघ फ्री रेंज में आएंगे यानी यह किसी पिंजरे में नहीं रहेंगे, बल्कि राष्ट्रीय उद्यान में खुले में विचरण कर सकेंगे।

जानकारी मिल रही है कि तीनो टाइगर अलग अलग केंद्र से या दो केंद्र से लाए जा सकते है। इसके पीछे का कारण बताया जा रहा हैं कि एक ही जीन के पुल के टाइगर के सर्वाइव करने की संभावना ज्यादा नहीं होती हैं। जबकि अलग अलग जीन पूल होने पर उनका वंश अच्छे से आगे बढ़ता हैं। इसलिए यहां कान्हा के साथ बांधवगढ़ से टाइगर लाए जा सकते हैं।