Shivpuri News वार्ड 38: विकास के रूप में निर्दलीय प्रत्याशी मनोज को देख रहे हैं मतदाता, दलों को चुनौती दी

शिवपुरी। शिवपुरी की वार्ड क्रमांक 38,जिसमें शहर का फिजिकल क्षेत्र,शांति नगर,लक्कड़ कॉलानी,छत्री रोड का हिस्सा आता हैं । इस वार्ड की कई कॉलोनिया विकास से दूर हैं। यह वार्ड पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित हुआ हैं। वार्ड में आधा दर्जन प्रत्याशी मैदान हैं,प्रचार अपने चरम पर हैं,लेकिन इस वार्ड में अब मुकाबला सीधा सीधा नहीं रहा है। वार्ड में मुकाबले में रंग भर दिए निर्दलीय युवा प्रत्याशी मनोज रजक ने।

इस वार्ड से भाजपा से बडा नाम पूर्व पार्षद भोपाल सिंह दांगी भी चुनाव लड रहे है। पार्टी से टिकिट न मिलने के कारण वह निर्दलीय मैदान में वह अपने पिछले 10 साल के कार्यकाल को लेकर वोट मांग रहे हैं। भोपाल सिंह दांगी पिछला चुनाव नही लड़े थे। पिछला चुनाव में यहां से भाजपा से भानू दुबे मैदान में थे और जीते थे।

इस बार भोपाल सिंह दांगी का सब्र का बांध टूट गया,टिकट मांगा नहीं मिला इस कारण वह निर्दलीय मैदान में दम भर रहे है। वही भाजपा ने अपना नया चेहरा वेदांश सेन पर विश्वास किया है। कांग्रेस से बलवीर सिंह लोधी और निर्दलीय प्रत्याशी मनोज रजक है।

शहर के किसी भी वार्ड में अभी तक चुनाव स्पष्ट नहीं है दो प्रत्याशियों की सीधी टक्कर का भी गणित किसी के पास नहीं है। इस वार्ड में सभी को चौकाने वाले गणित दे दिए युवा प्रत्याशी मनोज रजक ने। मनोज रजक फक्कड़ कॉलोनी में निवास करते है। पहली बार फक्कड़ कॉलोनी से कोई योग्य मिलनसार प्रत्याशी खड़ा हुआ हैं इस कारण फक्कड़ कॉलोनी का स्थानीय निवासी होने के कारण मनोज रजक को मतदाताओं की पसंद बनते जा रहे है। वार्ड 38 में सबसे ज्यादा पिछड़ा एरिया फक्कड़ कॉलोनी है वहां के नागरिक मूलभूत सुविधाओ को भी तरस रहे हैं,वह मनोज के रूप में अपना विकास देख रहे है।

वही इस वार्ड में रजक समाज के थोकबंद वोट भी हैं इस कारण मनोज रजक के सभी प्रत्याशियों के गणित को बिगाड दिया है। मनोज की सादगी भी अन्य समाज के मतदाताओं को आकर्षित कर रही है। इस चुनाव के नतीजों के विषय में फिलहाल कुछ कहा नहीं जा सकता हैं लेकिन दलीय प्रत्याशियों के लिए सबसे ज्यादा चुनौती मनोज रजक बन चुका है।