डॉ बंसल के बेटे को हनी ट्रैप करने वाली नर्स रितु से 4 लाख रूपए बरामद- Shivpuri News

शिवपुरी। वेदान्ता हॉस्पिटल के डॉ SK बंसल के बेटे आदित्य बंसल को हनी ट्रैप करने वाली नर्स से पुलिस ने 4 लाख नगद रूपए और 5 लाख रूपए का चेक बरामद करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने नर्स को गिरफ्तार करते हुए पूछताछ की है,इस पूछताछ में पुलिस ने डॉ बंसल के द्वारा दिए गए 5 लाख रूपए के चैक को पुलिस ने पूर्व मे ही बरामद कर लिया था।

जेसा कि विदित हैं वेदांता मल्टीस्पेशलिटी हास्पिटल में रितू श्रीवास्तव नर्सिग स्टाफ के रूप में पिछले चार माह से नौकरी कर रही थी। इसी दौरान डा सूरज बंसल का बेटा आदित्य भी अस्पताल में आता जाता रहता था। रितु श्रीवास्तव की नजर आदित्य पर पड़ गई और उसने धीरे-धीरे आदित्य से बात करते हुए नजदीकियां बढ़ाना शुरू कर दीं। जब रितु को लगने लगा कि आदित्य उसके चंगुल में फंस गया है तो उसने एक दिन मौका पाकर आदित्य के सामने अपने प्यार का इजहार कर दिया।

आदित्य रितु की के जाल में फंस गया और दोनों के बीच काफी नजदीकियां बढ़ गईं। इसी क्रम में करीब एक माह पहले डा बंसल ने उसे नौकरी से निकाल दिया तो रितु ने आदित्य पर अपने साथी शिशुपाल धाकड़ के साथ दबाब बनाना शुरू कर दिया कि वह अपने पिता से कहकर उसे नौकरी पर वापिस रखवाए, लेकिन जब आदित्य ऐसा करने में सफल नहीं रहा तो 4 जुलाई को रितु कोतवाली पहुंच गई। उसने कोतवाली के बाहर से आदित्य को फोन लगाया कि वह कोतवाली के बाहर खड़ी हुई है और उसके खिलाफ बलात्कार की शिकायत दर्ज करवाने जा रही है।

रितु के फोन के बाद आदित्य व डा सूरज बंसल तत्काल कोतवाली पहुंचे जहां वह कोतवाली के बाहर खड़ी मिली। डा बंसल और आदित्य दोनों उस नर्स को समझाबुझा कर वहां से अस्पताल ले आए जहां रितु ने डा बंसल को कहा कि अगर वह उसे दस लाख रुपये नहीं देंगे तो वह आदित्य के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करवा देगी।

डा बंसल ने अपनी इज्जत और बेटे के जीवन को ध्यान में रखते हुए रितु को पांच लाख रुपये का चैक, पांच लाख रुपये नगद दे दिए, लेकिन इतने पर भी रितु का मन नहीं भरा और उसने डेढ़ लाख रुपये फोन पे के माध्यम से भी लिए। इस तरह साढ़े ग्यारह लाख रुपये में मामला खत्म करने की बात कह कर वहां से चली गई। इसके बाद भी उसका मन नहीं भरा और उसकी ब्लैकमेलिंग जारी रही। लगातार ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर डॉ बंसल ने कोतवाली पुलिस में शिकायत की,जांच के बाद पुलिस ने इस मामले में रितु और उसके साथ शिशुपाल धाकड पर मामला दर्ज कर लिया।

पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी के बाद पूछताछ शुरू की तो 5 लाख रूपए का चैक बरामद किया जो डॉ बंसल ने ब्लैकमेलर नर्स को दिया था,दिए 5 लाख रूपए नगद में से पुलिस को 4 लाख रूपए नकद भी बरामद कर लिए है।

अपने पति को छोड चुकी हैं नर्स

बताया जा रहा है कि नर्स रितु की शादी होकर 2 बच्चे भी हैं और यूपी की रहने वाली हैं। लेकिन रितु अपने पति और बच्चों को छोडकर शिवपुरी में अकेली रह रही थी।