चौकीदार की मौत की गुत्थी में उलझी पुलिस,कहानी से चकरघिन्नी,सिर पर चोट का निशान,पढिए पूरी खबर- Shivpuri News

NEWS ROOM
शिवपुरी।
खबर शहर के देहात थाना क्षेत्र के ग्राम हातौद में गिरेवाल फार्म हाउस से आ रही है। जहां बीती रात्रि अशोकनगर जिले का एक पूरा परिवार रह कर चौकीदार व खेतीबाड़ी का काम करता है। उक्त परिवार के बड़े बेटे रिंकू पुत्र घनश्याम रजक उम्र 33 साल की लाश रविवार की सुबह उसकी लाश फॉर्म हाउस के बाहर पड़ी मिली।

रिंकू के परिजन व गांव के लोग उसे जिला अस्पताल लेकर आए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतक का पीएम करवा कर मर्ग कायम कर लिया है। मृतक की मौत की पूरी गुत्थी स्वजनों द्वारा बताई जा रही अलग-अलग कहानियों में उलझ गई है।

मृतक के छोटे भाई ईशू ने बताया है कि मृतक रिंकू रजक शनिवार की शाम करीब छह बजे घर से कुछ सामान लेने शिवपुरी आया था। शिवपुरी से उसने विदिशा निवासी अपनी साली को फोन लगाया और सीने में दर्द होने की शिकायत की, इसके बाद रिंकू की साली ने घर पर फोन लगाकर इस बात की जानकारी दी। बकौल ईशू जब उसने भाई रिंकू के मोबाइल पर फोन लगाया तो उसका फोन स्विच ऑफ बता रहा था।

रात भर रिंकू घर नहीं पहुंचा और सुबह उसकी लाश फॉर्म हाउस से करीब दो सौ मीटर की दूरी पर पड़ी मिली, सिर में चोट का निशान था। रिंकू की मोटर सायकल भी उसके पास नहीं थी, वह गांव के उत्तम आदिवासी के घर पर खड़ी मिली है। ऐसे में विचारणीय पहलू यह है कि रिंकू जो सामान खरीदने शिवपुरी आया था वह सामान कहां चला गया और बाइक उत्तम आदिवासी के घर कैसे पहुंची।

इसके अलावा ईशू ने यह भी बताया कि गांव के एक दुकानदार ने बताया कि रिंकू के साथ रात में एक और व्यक्ति था, वह व्यक्ति कौन था। ईशू के अनुसार वह व्यक्ति उत्तम आदिवासी नहीं था।

गांव से जुड़े बेहद विश्वसनीय सूत्रों की मानें तो अगर उत्तम के घर से रिंकू फॉर्म हाउस पर स्थित अपने घर की तरफ आएगा तो फॉर्म हाउस का गेट पहले पड़ेगा, लेकिन रिंकू की लाश गेट से आगे जाकर कुछ दूरी पर मिली है। ऐसे में विचारणीय पहलू यह भी है कि रिंकू घर का गेट क्रॉस कर कहां जा रहा था। रिंकू अगर शराब के नशे में धुत्त था और गिरता तो उसके शरीर के अन्य हिस्सों में भी चोट आनी थी, लेकिन चोट सिर्फ सिर पर ही क्यों आई। पुलिस के अनुसार वह इन सभी बिंदुओं पर पीएम रिपोर्ट आने के उपरांत जांच करेगी।

किसी व्यक्ति ने बुलाया और फिर चुप हो गया भाई

पोस्टमार्टम हाउस पर मृतक का भाई ईशू जब मीडिया को पूरी कहानी बता रहा था तभी वहां उसके साथ मौजूद दो युवकों ने उसे बुलाया और उससे कुछ बात की। इस बातचीत के बाद ईशू ने चुप्पी साध ली और वह कुछ भी बताने को तैयार नहीं हुआ। यहां तक कि जब उससे मृतक के फोटो की मांग की गई तो उसने फोटो तक देने से मना कर दिया। वह ऑन कैमरा अपना बयान देने तक से मुकर गया।
G-W2F7VGPV5M