सटोरिए नफीस ने पुरानी शिवपुरी क्षेत्र में जमाई अपनी जड़ें, खुलेआम चल रहा है सट्टा, पुलिस फैल- Shivpuri News

शिवपुरी। इन दिनों शहर का एक सटौरिया पुलिस को खुलेआम चुनौती दे रहा है। एक सटौरिया देहात थाना क्षेत्र में अपने तीन से चार काउण्टर लगाकर खुलेआम पर्ची काट रहा है। ऐसा नहीं है कि पुलिस इन सटौरियों से अनिभिग्य हो बल्कि यहां पुलिस को मेनेज कर सटौरिया खुलेआम लाईन ले रहे है। पहले देहात थाना क्षेत्र में सिकंदर सट्टे का किंग था परंतु पिछले कुछ दिनों से सिंकदर सिकंदर नहीं रहा बल्कि नफीस अब देहात थाना क्षेत्र का असली सिकदंर बन गया है। अब यह समझ से परे है कि खुलेआम नाम सामने आने के बाद भी पुलिस इस सटौरिए को अपना खुला संरक्षण दे रही है।

हालात यह है कि यहां खुलेआम सटौरिए सट्टे की पर्चीयां काटते नजर आ रहे है। परंतु पुलिस की मजाल नही की इन सटौरियों पर कोई कार्यवाही कर सके। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा हैं कि प्रति सप्ताह एक लिफाफा पुलिस के पास भी पहुंच रहा है जिसके चलते सटौरियों को पुलिस पूरी तरह हरी झंडी दे रही है। पहले यहां मनोज सेन भी राजपुरा रोड पर खुलेआम सट्टे की पर्चिया काट रहा था। परंतु सुनील खेमरिया द्धारा कार्यवाही के बाद वह ठंडे बस्ते में चला गया। अब नफीस के सक्रिय होते ही यह फिर से सक्रिय होने की फिराक में है।

एक रुपए को नब्बे रुपया बनाने के चक्कर में खासकर इस अवैध कारोबार में शहर का युवा वर्ग अधिक बर्बाद हो रहे हैं। सट्टे के इस खेल को बढ़ावा देने के लिए सटोरिया ग्राहकों को मुफ्त में स्कीम देखने के लिए सट्टे के नंबर वाले चार्ट भी उपलब्ध करा रहे हैं। इसका गुणा भाग कर ग्राहक सट्टे की चपेट में बुरी तरह से फंस जाता हैं और खून पसीने की मेहनत की कमाई का पैसा इस अवैध कारोबार में गंवा रहा है। देहात थाना क्षेत्र की बात करें तो यहां पहले सट्टा किंग सिकंदर हुआ करता था। परंतु कुछ दिनों से सिकंदर को नफीस ने पीछे छोडते हुए अब नफीस ने देहात थाना क्षेत्र का सट्टा किंग बन गया है।

इन जगहों पर चल रहा है सट्टा:

शहर भर में इन दिनों सट्टे का कारोबार पुराना बस स्टैंड, नीलगर चौराहा, पुरानी शिवपुरी फतेहपुर,सदर बाजार, सहित चौक चौराहे में स्थित कई दुकानों में सट्टे लिखवाने वालों भीड़ देखी जा सकती है। खाईवालों के चक्रव्यूह में लोग इस कदर फंस चुके हैं की इससे उबर नहींं पा रहे हैं। नगर में एक दो नही बल्कि कई खाईवाल लंबे समय से सट्टा संचालित कर रहे हैं।

पुलिस की मिलीभगत से संचालित होता है शहर मे सट्टे का अवैध कारोबार

पुलिस और खाईवालों की मिलीभगत से यह अवैध कारोबार नगर सहित आस पास के क्षेत्र में पुरी तरह से चरम पर है। खाईवालों ने भी गांव व नगर में अपना-अपना जोन बंटा हुआ है। एक दूसरे के जोन में कोई दखल नहीं देता है।