250 करोड बकाया हैं शिवपुरी के निवेशको के सहारा इंडिया पर, सहारा प्रमुख सुब्रत राय और पत्नि स्वप्ना राय पर मामला दर्ज

शिवुपरी। सिटी कोतवाली थाना शिवपुरी में गुरूवार को निवेशको ने सहारा प्रमुख सुब्रत राय सहित उनकी पत्नि व पांच अन्य लोगो के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया हैं। इस मामले में खास बात यह है कि पुलिस अफसरो के कहने पर सहारा ऐजेंटो ने निवेशो की एक महिने में सूची बनाई सूची में 7500 निवेशको का करीब 100 रू मूलधन सहारा इंडिया में जमा हैं। सूची को देखकर पुलिस के पसीने निकल रहे हैं। बताया गया है कि 7500 में से 45 निवेशको की सूची के आधार पर अपराध पंजीबद्ध किया हैं।

250 करोड रूपए बकाया हैं शिवपुरी के निवेशको पर सहारा इंडिया पर
निवेशक और ऐजेंटो का कहना हैं कि शिवपुरी जिले में 15 हजार निवेशक हैं जिनमें 1 करोड से लेकर 12 करोड तक टोटल रूपए सहारा इंडिया में मूलधन जमा हैं। इस लिहाज से जिल के निवेशकों को 250 करोड़ रूपए सहारा इंडिया से लेना हैं। अपनी मेहनत की गाढी कमाई के लिए ऐजेंटों के साथ निवेशक पहले से अधिक आक्रामक होते जा रहे हैं। कोतवाली थाने में गुरूवार को दर्ज दूसरी एफआईआर में सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय के साथ उनकी डारेक्टर पत्नि स्वप्ना राय और डायरेक्टर ओपी श्रीवास्तव,बीके श्रीवास्तव लखनउ,एनके पाल लखनउ,रीजनल मैनेजर ग्वालियर शिवाजी सिंह और शिवपुरी शाखा प्रबंधक नदीम अहमद के साथ भादवि की धारा 420 और मप्र निक्षेपको के हितो का संरक्षण अधिनियम की धारा 6 1 कि तहत केस दर्ज कर लिया हैं।

44 निवेशको की हुआ एफडी का समय पूरा,अब पैसा नही
फरियादी संजय सिंह तोमर निवासी तारकेश्वरी कॉलोनी शिवपुरी इस मामले मे फरीयादी हैं। संजय का कहना हैं कि उसने अलग अलग स्कीम के तहत सहारा इंडिया में 1 लाख 65 हजार 488 रूपए की एफडी कराई थी। मेरे अलावा अन्य 44 निवेशको ने भी एफडी कराई जिनका समय पूरा होने के बाद भी भुगतान नही किया जा रहा हैं। पहली एफआईआर नीरज कुमार शर्मा ने अन्य 183 निवेशको के संग 25 सितंबर 2020 को दर्ज कराई थी।

3 करोड की धोखाधडी में हुई थी पहली एफआईआर
पहली एफआईआर में 184 निवेशको को करीब 3 करोड रू सहारा इंडिया से लेना हैं। अब दूसरी एफआईआर में 45 निवेशकों के नाम हैं। जिन्हे करीब 93 लाख रूपए लेना हैं। पुलिस को सौंपी साढे सात हजार की लिस्ट की बात करें तो अभी अधिकतर निवेशक छूटे हुए हैं। अनुमान हैं कि धीरे धीरे अन्य एफआईआर हो सकती है। अगली एफआईआर करैरा थाने में हो सकती हैं।