बंदरो की बदमाश कंपनी सक्रिय: महिलाओं और बच्चों को बना रहे हैं निशाना, अस्पताल में इंजेक्शन तक नही - karera News

करैरा। करैरा नगर में बदमाश बंदरो की गैंग सक्रिय है,और इस गैंग के आंतक से नगर वासी दहशत में है। पिछले कुछ दिना में बदमाश गैंग ने कई लोगो पर हमला कर उन्है घायल कर दिया। करैरा के वार्ड 3 नगरिया मोहल्ला में रहने वाले नरेंद्र शर्मा डबरा वालो की पुत्री किरण शर्मा को बंदरो ने बुरी तरह चहरे पर लहूलुहान कर दिया था।

इसके पूर्व काजी मोहल्ला वार्ड 5 में रहने वाले इकराम खान की पत्नी तंजीम बेगम और स्वर्गीय रमेश श्रीवास्तव की पत्नी उमा श्रीवास्तव को बुरी तरह से लहूलुहान कर दिया। इसमें एक 5 साल का बच्चा जितेंद्र वंशकार को भी चोट आई। एक महिला की नाक में काटा तो दूसरी महिला के चहरे को बंदर ने काट कर बुरी तरह घायल कर दिया।

करैरा निवासी सलीम खान का कहना है कि वार्ड 5 तंजीम पत्नी इकराम खान उम्र 37 साल जो अपने घर की छत पर बनी पानी की टंकी से पाइप निकलने के लिए गई हुई थी। इतने में पीछे से आकर बंदरो झुंड ने हमला कर दिया और देखते ही देखते उनकी नाक को काट लिया। इससे उनकी नाक में 7 टांके आये।

घायल अवस्था मे करैरा अस्पताल लेकर पहुंचे मरीजों को एंटी रैबीज के इंजेक्शन तक नहीं मिल पा रहे हैं। आए दिन हो रहे बंदरो के काटे जाने के मामले देखने और सुनने मिलने के बाद भी न वन विभाग ध्यान दे रहा है न ही करैरा नगर परिषद।

बंदरो का बढ़ता आतंक भयभीत जनता

करैरा निवासी अनीश खान ने बताया कि आतंकी बन्दरो से जनता इतनी भयभीत बनी हुई है कि आम रास्ता पर चल रहे राहगीरों के हाथों से यह उत्पादि बन्दर सामान तक छीन ले जाते है। साथ ही छत पर कोई खाद्य सामग्री डली हुई है तो आपकी नजर झपकते ही बंदरो का हुजूम एक दम से इकट्ठा हो जाता है।छत पर बैठी महिला और बच्चों पर एकदम से हमला बोल देते हैं। करैरा नगर में बंदरो का इतना आतंक बढ़ गया है कि बंदरों की धमाचौकड़ी से करैरा वासियो का जीना मुहाल हो गया है।