वनविभाग की नर्सरी में चर रहे है मवेशी,पैसे लेकर चराने का आरोप- kolaras news

रन्नौद। जिले के वन परिक्षेत्र पिछोर के अंतर्गत आने वाली चौकी राजापुर के चिराठे तालाब के पास वन विभाग की नर्सरी में पैसे लेकर मवेशियों के चरवाने के आरोप ग्रामीणों ने लगाए हैं। शासन ने लाखाें रुपये खर्च कर यहां पर प्लांटेशन कराया है,लकिन इस प्लांटनेशन में मवेशी चर रहे हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गत दिवस बीट के रेंजर तिजारपुर कम्पाउंट क्र. 1109 पर नर्सरी के प्लांटेशन का निरीक्षण करने गए, उस समय वहां पर मवेशी चर रहे थे जिसका वीडियो वहां पर मौजूद एक व्यक्ति बनाने लगा लेकिन वन विभाग के कर्मचारियों ने वीडियो डिलीट करा दिया। जब प्रभारी रेंजर श्रीकांत भारद्वाज से इस बारे में उनका पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने पत्रकारो पर ही आरोप लगा दिए।

वहीं बंटी केवट का कहना है कि तिजारपुर गांव में वन विभाग की नर्सरी बनी है। यहां पर गार्ड पैसे लेकर मवेशियों का झुंड चराते है जो पैसे नहीं देता उनके मवेशी भगा देते है। जब गांव का एक युवक इसका वीडियो बना रहा था तो वह डिलीट करा दी।

वहीं प्रभारी रेंजर का कहना है शिकायतकर्ता बंटी केवट रेंज की जगह पर जुताई कर रहा था। उस पर बागड़ भी लगा रखी थी। इस पर विभाग की ओर से अतिक्रमण के प्रयास और जुताई करने का मामला भी दर्ज किया गया है। मामला दर्ज होने के बाद वह शिकायतें कर गलत आरोप लगा रहा हैं,रेंजर भले कह रही रहे हो लेकिन बंटी केवट पर कोई मामला दर्ज नही किया गया है कोई जराम नही काटी गई हैं।


बड़ी राशि खर्च किया है प्लांटेशन, मवेशी पहुंचा रहे नुकसान
वन विभाग ने यहां तिजारपुर रेंज मेें बड़े स्तर पर प्लांटेशन किया है। यहां पर आए दिन मवेशी चरकर प्लांटेशन को नुकसान पहुंचा रहे हैं जिन पर उचित कार्रवाई नहीं हो रही है। आसपास के ग्रामीणों के मवेशी यहां पर चरते हैं। नर्सरी पर गार्ड भी तैनात रहता है, लेकिन इसके बाद भी प्लांटेशन को सुरक्षित रखने में सफल नहीं हो रहे हैं।