जलावर्धन योजना: सिंध के नलों से कीचड़ निकल रहा है, हाथ धोने पर गंदे हो जाते हैं - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में ताबडतोड बारिश के बाद आई बांढ के निशान अभी स्पष्ट दिखाई दे रहे हैं। अब यह निशान घरो के नलो में से निकल रहे है। सिंध के सैलाब आने के बाद रविवार को शहर में कुछ जगह सिंध का पानी सप्लाई किया गया। इस पानी को फिल्टर करने का प्रयास किया लेकिन फिल्टर नही हो सका। इसलिए नलो ने पानी की कीचड उगली। जिससे आमजन अपने अपने हिसाब से प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

शहर की इन कॉलोनियों में आया पानी

शिवपुरी शहर में रविवार को सिंध की सप्लाई शुरू हो चुकी थी लगभग 7 दिन बाद पानी आया,लेकिन लोग पानी को देखकर हैरान रह गए। पानी नील कलर की जगह लाल आ रहा था। शहर की गणेश कॉलोनी, सईसपुरा, श्रीविहार कॉलोनी, संजय कॉलोनी, इंदिरा कॉलोनी, मंगल मसाले वाली गली, फतेहपुर,गांधी कॉलोनी,फिजीकल क्षेत्र और मनियर सहित लगभग अधिकांश जगहों से गंदा पानी सप्लाई होने की शिकायतें मिल रहीं हैं।

पानी इतना गंदा की फिल्टर प्लांट के फिल्टर जाम

मड़ीखेड़ा बांध स्थित इंटेकवेल से सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट तक बहुत ज्यादा गंदा पानी आ गया। इस कारण प्लांट के फिल्टर तक जाम हो गए। फिल्टर प्लांट पर फिल्टर साफ कराने पड़े। कर्मचारी ध्यान नहीं दे पाए और शिवपुरी शहर में गंदे पानी से टंकियां भर दीं और नलों में यही गंदा पानी पहुंचने लगा है।

पानी पीना तो छोडिए हाथ नही धो सकते

दर्पण कॉलोनी निवासी दीपक सिंह ने गंदे पानी की फोटो भेजकर कहा कि पब्लिक यह पानी पी ले तो हॉस्पिटल जाना तय है। अधिकारी यह पानी पीकर दिखा दे। मड़ीखेड़ा से सप्लाई हो रहा पानी बहुत गंदा है। फिल्टर प्लांट होते हुए भी गंदे पानी की सप्लाई दी जा रही है। अधिकारी और जनप्रतिनिधि समस्या पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। अवधेश गोयल ने रविवार को नल से सप्लाई हो रहा गंदा पानी दिखाया और कहा कि इसे कौन पिएगा। यह तो नहाने और कपड़े धोने लायक भी नहीं है।

इनका कहना हैं
सिंध नदी में बाढ़ के कारण बहुत ज्यादा मटमैला पानी आ गया था। सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट पर फिल्टर तक जाम हो गए। हालांकि गंदा पानी साफ करने के लिए एलम की मात्रा ढाई गुना तक बढ़वा दी है। मंगलवार से साफ पानी की सप्लाई चालू हो जाएगी।
सचिन चौहान, एई, नगर पालिका शिवपुरी