12 साल की दोनों नाबालिग बच्चियां ककरा में मिली, मजदूरी करने गई थी - Pohri News

पोहरी। जिले में बीते रोज अपनी चचेरी बहिन के साथ गायब दोनों नाबालिगों को आज पुलिस ने दस्तयाब कर लिया है। दोनों बहिने अपनी ममेरी बहन के साथ मजदूरी कर धान लगवाने कररा गांव में चली गई थी। इन बच्चियों को दस्तयाब करने पर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने 10 हजार के इनाम की घोषणा की थी।

जानकारी के अनुसार बीते रोज ग्राम पटपरी पुलिस चौकी भटनावर से दो नाबालिग बच्ची दमयंती उम्र 12 साल और सीता बाई उम्र 11 साल के परिजनों ने शिकायत करते हुए बताया कि उनकी ममेरी बहिन विमला अपने साथ दोनों नाबालिगों को लेकर भाग गई है।

इस मामले में पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर दोनों बच्चियों के नाबालिग होने के चलते तत्काल अपहरण का मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया था। इस मामले में दोनों के नाबालिग होने और आदिवासी समुदाय से होने के चलते एसपी राजेश सिंह चंदेल को मासूमों के खरीद परोस्त का डर सताने लगा उन्होंने तत्काल टीम गठित कर इन मासूमों को दस्तयाव करने का टास्क नवागत थाना प्रभारी जितेन्द्र चंदेलिया को देते हुए 10 हजार का इनाम घोषित किया।

जिसपर से पुलिस टीम की सक्रियता और सूत्रों के आधार पर टीम ककरा गांव में पहुंची तो वहां उक्त दोनों नाबालिग किशोरीयां खेत में धान लगाती हुई मिली। जिसपर से पुलिस ने राहत की सांस लेते हुए दोनों को थाने लेकर आए। जहां परिजनों को बुलाकर उक्त दोनों बेटियों को परिजनों को सुपुर्द कर दिया।