पैसों की भूख,पत्नी पॉजिटिव,पति बेच रहा था पिछले दरवाजे से दवा - Shivpuri News

शिवपुरी। पैसा खुदा तो नहीं लेकिन खुदा की कसम खुदा से कम भी नहीं जी हां आज यह पंक्तियां शिवपुरी में चरितार्थ होती नजर आई। शिवपुरी के एक दवा कारोबारी की पत्नी पाजिटिव है ऐसे में उसे होम आइसोलेट में रखा गया है लेकिन पति की पैसों की भूख ऐसी थी कि घर में पत्नी के पाजिटिव आने के बाद भी उसे पैसा कमाना सूझ रहा था और वह पिछले दरवाजे से ग्राहकों को दवा दे रहा था।

ऐसा ही मामला आज शिवपुरी शहर में सामने आया जहां एक दवा विक्रेता मनोज जैन जो कि मनोज मेडीकल राजेश्वरी रोड पर संचालित करता है। उसकी पत्नी को कोरोना टेस्ट कराने के बाद पाजिटिव पाया गया और उसे होम आइसोलेट किया गया लेकिन कोरोना पाजिटिव पत्नी के आने के बाद भी दवा विक्रेता की पैसों की भूख ऐसी थी उसने सामने की तो शटर गिरा दी लेकिन घर के पिछले दरवाजे से वह दवा बेचने का कारोबार करने लगा और कई ग्राहकों को दवा तक दे डाली। इतना ही नहीं बिना पर्चे के लोग दवा खरीदते मिले किसी ने कहा गैस की गोली ली है तो किसी ने पेट दर्द तो किसी ने हाथ पैर दर्द की गोलियां तक ले डाली।

दवा लेने वालों को हो सकता है कोरोना

आज जिन लोगों ने दवा दुकानदार से दवा ली और पैसों का लेनदेन किया उससे साफ है कि लोग किस तरह से कोरोना के नियमों का पालन कर रहे हैं। कोरोना पाजिटिव के परिजन दुकान पर कारोबार कर रहे हैं तो दूसरी ओर वे ग्राहक भी नासमझ हैं जो कोरोना पाजिटिव की दुकान से दवा ले रहे हैं और पैसों का आदान प्रदान कर रहे हैं ऐसे में वे लोग कोरोना का शिकार हो सकते हैं।

5 हजार का जुर्माना

मौके पर पहुंचे यातायात प्रभारी और एसडीएम ने कार्रवाई कर दुकान संचालक पर 5 हजार रूपए का जुर्माना ठोक दिया। साथ ही हिदायद भी दी कि यदि वह कारोबार करते नजर आए तो उनके विरूद्ध धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

कई पाजिटिव बिना जांच के कर रहे कारोबार

कई लोग तो ऐसे हैं जो कोरोना का शिकार हैं बावजूद इसके वे लोग चोरी छिपे अपने घरों से कारोबार कर रहे हैं। खासकर वे किराना व्यापारी जो थोक दुकानों का संचालन कर रहे हैं। ऐसे कई नामचीन व्यापारी है जो कोरोना की गिरफत में होने के बावजूद अपने कारोबार को अंजाम दे रहे हैं।

किराना दुकान संचालकों और नौकरों का हो टेस्ट

लोगों का कहना है कि जिन किराना दुकान संचालकों को प्रशासन ने परमीशन दी है उन दुकानदारों सहित उनके यहां काम करने वाले नौकरों का कोरोना टेस्ट कराया जाए जिससे लोगों को कोरोना का शिकार न होना पडे।