कोरोना की पॉजीटिविटी रेट लगातार घट रही है, लेकिन मौत के आंकडे सुधर नही रहे हैं - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में एक समय में RT-PCR की पॉजीटिविटी दर 45 प्रतिशत तक पहुंच गई थी,लेकिन अब आरटीपीसीआर और रेपिट किट की पॉजीटिविटी दर कम हो रही हैं। कल सोमवार को देर रात हैल्थ बुलेटिन जारी किए गए हैल्थ बुलेटिन के अनुसार 1505 लोगो की जांच रिर्पोट आई थी जिसमें 220 मरीजो की जांच पॉजिटिव आई थी।

अगर जांच की अनुपात में पॉजीटिविटी दर की बात करे तो RT-PCR की जांच का प्रतिशत 14.15 रहा और रेपिड किट की जांच का प्रतिशत 10 प्रतिशत से भी कम रहा हैंं,अप्रैल माह में पॉजीटिविटी दर 45 प्रतिशत तक पहुची थी।

हम 1 मई से शुरू करते हैं
1 मई:737 में से 278 पॉजिटिव, RT-PCR का प्रतिशत 37.17 और किट का 8.48% रहा था
2 मई:678 जांचो में 252 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 37.19 और किट का 8.25% रहा था
3 मई:653 जांचो में 221 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 34.15 और किट का 9.48% रहा था
4 मई:955 जांचो में 333 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 35.91 और किट का 8.87% रहा था
5 मई:1386 जांचोम में से 406 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 29.07 और किट का 9.16% रहा था
6 मई:1227 जांचो में 298 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 24.29 और किट का 9.35% रहा था
7 मई:1220 जांचो में 253 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 20.65 और किट का 9.4835% रहा था
8 मई:1197 जांचो में 953 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 20.38 और किट का 9.60% रहा था
9 मई:1397 जांचो में 255 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 18.18 और किट का 9.71% रहा था
10 मई:1505 जांचो में 220 पॉजिटिव,RT-PCR का प्रतिशत 14.15 और किट का 9.75% रहा था

प्रशासन ने कोरोना की चेन तोडने के लिए लॉकडाउन तो किया साथ में शहर की सडको को लॉक किया,जिले में रेड और यलो जोन वाली गांवो की सीमाए पैक की। इसके बाद जागरूकता बडी तो कई गांवो को ग्रामीणो से स्वय ही लॉक कर दिया। प्रशासन ने शहर में प्रवेश करने वाले मुख्य मार्गो को छोडकर सभी रास्तो को बंद कर दिया हैं। जिससे आवजाही पर असर पडा हैं।

जांचो के अनुपात में मरीजो की पॉजीटिविटी दर तो धीरे—धीरे कम होती दिख रही हैं लेकिन प्रतिदिन 10 मौते हो रही हैं,प्रतिदिन ईलाज में लापरवाही की खबरे आती हैं। प्रशासन को ईलाज में सुधार कर कोरोना से होने वाली मौतो पर अंकुश लगाना होगा।