खाली पेट शुगर लेवल 300 से अधिक, बढ़ सकता है ब्लैक फंगस का खतरा: डॉ.पंकज शाह - Shivpuri News

शिवपुरी। गिब वेक टू इण्डिया मुहिम अमेरिका के कोविड एक्सपर्ट डाक्टरों की टीम ने आज दुसरे दिन जूम मीटिंग के माध्यम से रवि गोयल एवं उनके वालेण्टियर कपिल त्यागी के माध्यम से जिला अस्पताल के आईसीयू एवं कोविड वार्ड में भर्ती 20 मरीजों को परामर्श देते हुए बताया कि जिन मरीजो का ब्लड शुगर बहुत ज्यादा नीचे गिर रहा है। जिन कोरोना से पीड़ित मरीजो का ब्लड शुगर खाली पेट 300 से अधिक जा रहा है ऐसे मरीजो के ब्लड शुगर तो तत्काल नियंत्रित किया जाना अति आवश्यक है।

डाॅ. पंकज शाह ने बताया कि कोविड से पीड़ित मरीजों का शुगर लेबल दिन मे दो बार चेक किया जाना चाहिए और अगर ब्लड शुगर खाली पेट 300 से अधिक जा रहा है तो ऐसे पेशेन्ट को ब्लैक फंग्स होने की संभावना काफी बढ़ सकती है ऐसे मरीजो को तत्काल आवश्यक दवाईया या इन्सूलिन दिया जाना चाहिए। अमेरिका में ऐसे कई केसो में जिनकी ब्लड शुगर 300 से अधिक हो गई थी ब्लैक फंग्स का संक्रमण पाया गया।

जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों से भी चर्चा की गई जिसमें कि मरीजो को काफी अच्छा मेडिसिन एवं ईलाज मुहैया कराया जा रहा है और कहा कि चिकित्सक सीएस गुप्ता बधाई के पात्र हैं जिन्होने 92 प्रतिशत संक्रमण वाले श्री रामप्रसाद राठौर को दिन रात एक करके सही से ईलाज करके एवं समय समय पर उनका हौसला बढाकर आज पूरी तरीके से स्वस्थ करके घर भेजा।

इसके साथ ही एक और मरीज जो कि 69 आक्सीजन सेचुरेशन पर एवं एचआरसीटी स्कोर 20 से अधिक होने पर भी उनको सही से ईलाज करके आज पूर्णतः ठीक होने पर घर के लिए रवाना किया है।

बेहतर कार्य के लिए चिकित्सकों को सम्मानित भी किया। आज जिन डाक्टरों को सम्मानित किया उनमें डा0 पवन जैन, डा0 संजय ऋषिश्वर, डा0 राज कुमार ऋषिश्वर सीविल सर्जन, डा0 दिनेश अग्रवाल, डा. संतोष पाठक, डा0 गिरीश चतुर्वेदी, डा. अनूप गर्ग, डा0 चंद्र शेखर गुप्ता, वार्डबॉय आईसीयू, आईसीयू की साफ सफाई करने वाले सफाई सहायक को एक एक पौधा एवं उपहार देकर उनके प्रति अपना सम्मान प्रकृट किया।

आशाीष अग्रवाल ने कहा कि मेरी मम्मी अगर आज जिंदा है तो जिला चिकित्सालय शिवपुरी के सभी डाक्टर खासतौर से डा0 सीएस गुप्ता एवं डाॅ.संतोष पाठक को जब भी हमने आईसीयू मे बुलाया वह तुरन्त आए एवं हमको यहा किसी प्रकार की कोई समस्या नही हुई।

समय पर रेमडीशिविर इनजेक्शन लगाया गया, जो दवाईया बाजार में भी उपलब्ध नही है हमको यहा निशुल्क उपलब्ध करायी गयी। इसके लिए पूरे अस्पताल प्रशासन एवं डाक्टरों का बहुत बहुत धन्यवाद ज्ञापित किया।