2 गज की दूरी मास्क है जरूरी पर कैसे, यहां तो प्रशासन ही नियम तोड़ने पर मजबूर कर रही हैं - Shivpuri News

धर्मेन्द्र शर्मा,पोहरी। कोरोना काल में एक 2 गज की दूरी मास्क हैं जरूरी,पर कैसे,पोहरी में तो प्रशासन ही आमजन को यह नियम तोडने को मजबूर कर रहा हैं। पोहरी में नगरीय प्रशासन के कारण नलकूपों की लाइन में घंटो लग रहे,कारण स्पष्ट हैं पोहरी में जलसंकट अपने चरम पर हैं।

फैल सकता है भीड से कोरोना

नलकूपों पर जिस तरह से लाइन लग रही है उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि लोग पानी के लिए परेशान हैं और भीड भाड वाली जगहों पर ही कोरोना फैलने का अधिक खतरा रहता है। ऐसे में कहीं यह नलकूप कोरोना न फैला दें इस बात की भी चिंता लोगों को सता रही है। इतना ही नहीं कई पाजिटिव मरीज और उनके परिजन तक लाइन में लगे हुए नजर आते हैं।

नल जल योजना ठप्प, नलकूपों का पानी सडकों पर

कहने को तो पोहरी में नल जल योजना चालू हैं लेकिन टंकी पूरी तरह से न भर पाने के चलते सप्लाई नहीं हो पा रही है। इतना ही नहीं नगर परिषद ने जिन नलकूपों में मोटर डाली है उनका पानी व्यर्थ सडकों पर बह रहा है जिससे लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड रहा है।

यह बोले लोग

पोहरी के शुभम शर्मा का कहना है कि नगर तें पानी की समस्या है जो पैसे वाले हैं वह तो 400 से 500 रूपए में टैंकर डलवा रहे हैं लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी गरीबों की है जो कोरोना की महामारी के बीच नलकूपों से पानी भर रहे हैं।

वही पोहरी निवासी सोनू झा ने कहा कि नलकूपों में मोटर तो डाली हैं उसे टंकी में न जोडते हुए सडकों पर खुला छोड दिया है जिससे टंकी नहीं भरती है और सप्लाई नहीं होती है इतना ही नहीं पानी भरने से गंदगी जमा हो रही है जिससे लोगों को परेशानी हो रही है।

यह बोले कांग्रेस नेता

भाजपा की सरकार झूठों की सरकार है सत्ता में आने के लिए जनता से वादे तो किए जाते हैं लेकिन बाद में उन वादों को ही नेता भूल जाते हैं। सरकुला डैम पर वोट तो लिए लेकिन काम आज तक नहीं हुआ। पोहरी सहित गांवों में जलसंकट है इस ओर किसी का ध्यान नहीं हैं ऐसे में कोरोना में लोगों को घर पर रहना चाहिए लेकिन वे लोग पानी के लिए दिन रात एक कर रहे हैं।
संजीव शर्मा, प्रवक्ता कांग्रेस पोहरी