उखड़ती सांसों की डोर को थामने की कोशिश कर रहा है मेडिकल का अस्पताल: यहां भी 100 बेड फुल - Shivpuri News

शिवपुरी। किलर कोरोना लोगो की सांसो को खीच रहा हैं। जिले में लगातार लोग संक्रमण का शिकार हो रहे हैं,और मौते थमने का नाम नही ले रही है। प्रतिदिन जिला अस्पताल का आईशोलेशन वार्ड कोविड के मरीजो की लाशे उगल रहा है।

जिले में लगातार कोविड के मरीज बडने के कारण सरकारी अस्पताल मे बने आईशोलशन वार्ड की सांसे भी सिकुडने  लगी थी,इन्ही  उखडती सांसो को सहारा देने के लिए मेडिकल काॅलेज का अस्पताल कोविड के लिए शुरू किया गया।

सबसे पहले इस अस्पताल में 40 बेड का अपग्रेड आईसीयू शुरू किया गया उसके बाद शनिवार को 30 ऑक्सीजन बेड तैयार किए थे जो पहले ही दिन फुल हो गए और रविवार को 30 बेड और तैयार कर लिए थे। खाली बेड का पता चलने पर यह बेड भी फुल हो गए हैं। ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीज लगातार आ रहे हैं।

ऐसे में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जरूरत है, जिससे बेड की संख्या और बढ़ाकर मरीजों को भर्ती किया जा सकेगा। मेडिकल कॉलेज में अभी 100 मरीज भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। वहीं मेडिकल कॉलेज में अभी ऑक्सीजन पर्याप्त है। मोदी नगर दिल्ली से सोमवार की शाम तक ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचने की बात अधिकारी कह रहे हैं।

जिला अस्पताल में भी बेड फुल चल रहे

जिला अस्पताल शिवपुरी के कोविड आईसीयू के अलावा ऑक्सीजन के करीब 62 बेड हैं। मरीजों की संख्या अधिक होने की वजह से ऑक्सीजन के बेड फुल चल रहे हैं। भर्ती मरीजों को रिकवर करके दूसरे मरीजों को बेड उपलब्ध कराने की जद्दोजहद जारी है।

सरकार को तीन महीने से 40 कंसंट्रेटर की डिमांड भेज रहे, अब तक नहीं मिले

मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में 40 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन की डिमांड शासन को जनवरी महीने में ही भेजी जा चुकी है। लेकिन अभी तक कंसंट्रेटर नहीं मिल पाए हैं। डीन का कहना है कि जनवरी के बाद मार्च और अप्रैल में रिमांइडर भेज चुके हैं। यदि शासन से कंसंट्रेटर मिलते हैं तो ऑक्सीजन पर दूसरे अन्य मरीजों को भी रखा जा सकेगा।