सरकार ने की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की फीस माफ, SC-ST के छात्रों को लौटाने होंगे पैसे - Shivpuri News

शिवपुरी। सरकार ने कक्षा 10वीं और 12वीं के एससी-एसटी वर्ग सहित संबल योजना के छात्र-छात्राओं बोर्ड परीक्षा फीस माफ कर दी है। लेकिन शिवपुरी जिले में अधिकांश सरकारी स्कूलों के प्राचार्यों द्वारा फीस वसूलने जाने के बाद बोर्ड परीक्षा फीस लौटाना तो दूर छात्र-छात्राओं को इस बारे में जानकारी तक नहीं दी है। चार महीने बाद भी सरकार इस राहत भरी सूचना से छात्र अभी तक अनभिज्ञ बने हुए हैं।

शिवपुरी जिले में एससी-एसटी सहित संबल योजना के तहत परीक्षा फीस माफी के दायरे में 12 हजार से अधिक छात्र-छात्राएं हैं। प्रति छात्र 900 रुपए फीस माफ होने इन सभी छात्रों को एक करोड़ से अधिक की राशि वापस होना है। कोरोना महामारी के दौर में छात्र-छात्राएं भी अधिकतर स्कूल नहीं आए, इसी का फायदा उठाकर स्कूल प्राचार्य योजना को पलीता लगाने की फिराक में हैं।

छात्रा आकांक्षा कोली ने बताया कि बोर्ड परीक्षा फीस सहित कुल 1430 रुपए स्कूल में जमा कराए। एससी वर्ग से हूं, फीस के 900 रु. लौटाना तो दूर हमें किसी ने इस बारे में बताय तक नहीं।

दसवीं में 21805 और बारहवीं में 12856 छात्र-छात्राओं ने बोर्ड परीक्षा फार्म भरे हैं

कक्षा 10वीं में नियमित 19630 छात्र-छात्राएं दर्ज हैं। जबकि 2175 छात्र-छात्राएं प्राइवेट हैं। इस तरह कक्षा दसवीं में कुल 21805 छात्रों ने बोर्ड परीक्षा का फर्म भरा है। इनमें 50% से अधिक छात्र एससी-एसटी व संबल के दायरे में हैं।

कक्षा 12वीं में नियमित 12856 छात्र-छात्राएं दर्ज हैं। जबकि 1047 छात्र-छात्राएं प्राइवेट हैं। कुल 13631 छात्रों ने बोर्ड परीक्षा फार्म भरा है। इनमें भी 50% से अधिक छात्र एससी-एसटी व संबल के दायरे में हैं।

चेक से राशि लौटाएंगे

हमारे स्कूल में एससी-एसटी व संबल योजना के करीब 80 बच्चे हैं जिन्हें बोर्ड परीक्षा शुल्क वापस लौटाना है। चैक से सभी छात्रों को राशि लौटाएंगे। अजय चौधरी, प्राचार्य, शासकीय हासे स्कूल सिरसौद (करैरा)

जानकारी मांगेंगे

जिले के सभी सरकारी स्कूलों के प्राचार्यों को निर्देश जारी कर जानकारी मांगाएंगे कि संबल योजना व एससी-एसटी वर्ग के कितने छात्रों को परीक्षा फीस वापस की गई है। दीपक पांडेय, जिला शिक्षा अधिकारी