सज रही थी दुल्हन बेचने की मंण्डी :4 लोगों को किया गिरफ्तार, दुल्हनों की उम्र 20 से 22 वर्ष - kolaras News

कोलारस। खबर जिले के कोलारस अनुविभाग के इंदार थाना क्षेत्र से आ रही हैं कि इंदार थाने अंतर्गत आने वाले अटारई गांव में लडकियों को बचने का मामला प्रकाश में आया है। बताया जा रहा है कि उक्त लडकिया बिलासपुर से लाई गई थी और जिनको बेचने का प्रयास किया जा रहा था। इस मामले में पुलिस ने 4 लोगो को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया और 6 लोगो पर हयूमन ट्रेकिंग का मामला दर्ज किया हैं। 

जानकारी के अनुसार अटारई गांव में शनिवार को दो लड़कियों की खरीफ फरोख्त की सूचना मिलने पर पुलिस मौैके पर पहुंची। यहां भूरा कुशवाह नामक व्यक्ति के घर लड़कियों की बोली लगाई जा रही थी। एक लड़की की बोली 70 हजार से शुरू की गई थी। लड़की की बोली लगने के बाद 15 हजार रुपए की बयान राशि भी दे दी थी। पुलिस ने 15 हजार रुपए मौके पर जब्त कर लिया। 

अटारई गांव क भूरा कुशवाह, जगदीश कुशवाह और मुन्ना कुमार निवासी भिलारी बामौर को हिरासत में लिया। वहीं छत्तीसगढ़ के बिलासपुर स्थित कोटनी से सिशोक कुमार नाम का व्यक्ति 20-22 साल की दो लड़कियों को बेचने के लिए यहां लाया था। सभी छह लोगों को पुलिस साथ ले आई पूछताछ शुरू की। दो दिन की लंबी पूछताछ के बाद पुलिस ने सोमवार को मानव तस्करी की धारा में मुकदमा दर्ज कर मामला विवेचना में ले लिया है।

सिशोक कुमार के संग एक लड़की है, जिसे वह अपनी पत्नी बता रहा है। लड़की भी पिछले छह माह से उसी के संग रह रही है। हो सकता हैं यह वह गिरोह की लडकिया हो जो शादी कर लेती हैं और फिर शादी के कुछ माह बाद अपनी ससुराल का सारा माल लेकर आधी रात गायब हो जाती हैं। यह वही लुटैरी दुल्हन हैं,अगर पुलिस इन लडकियो को बचने वाले सिशोक कुमार और जब्त लडकियो से पूछताछ करे तो नए मामले भी सामने आ सकते हैं।