कोरोना से लडने की तैयारी: नई बिल्डिंग में पांचवे व चौथे माले पर 90 बिस्तर का ICU खोलने की तैयारी - SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। मेडिकल कॉलेज परिसर में निर्माणाधीन पांच मंजिला अस्पताल बिल्डिंग के पांचवे और चौथे माले 90 बिस्तर का आईसीयू तैयार हो रहा है। इसलिए दोनों मंजिलें सबसे पहले हैंडओवर होंगी। जबकि शेष हिस्से में बिल्डिंग का काम जारी रहेगा। कोरोना संक्रमण फैलते देख 300 बिस्तरों के अस्पताल बिल्डिंग की दोनों मंजिलें सबसे पहले कंप्लीट कराई जा रहीं हैं।

नई अस्पताल बिल्डिंग 300 बिस्तरों के बनाई जा रही है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए 90 बिस्तर का आईसीयू और 210 बिस्तर का आइसोलेशन वार्ड तैयार किए जा रहे हैं। जिससे जिला अस्पताल पर मरीजों का अनावश्यक बोझ कम हो। साथ ही पड़ोसी जिले श्योपुर, गुना और अशोकनगर के गंभीर मरीजों को भी मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में बेहतर इलाज मिल पाएगा। 

खुद कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने शनिवार को अस्पताल बिल्डिंग का जायजा लिया। दोनों मंजिलों का काम तेजी कर जल्द खत्म करने के निर्देश दिए हैं। ताकि नया आईसीयू बहुत जल्द प्रारंभ हो सके। बता दें कि मार्च से अटकी प्रशासकीय स्वीकृति सितंबर में मिली, फिर भी शासन ने 21.35 करोड़ रुपए जारी नहीं किए हैं। 

जिससे बिल्डिंग का काम प्रभावित हो गया। हालांकि 1.50 करोड़ रुपए गैस पाइप लाइन बिछाने के जरूरी दे दिए हैं। जिससे गैस पाइप लाइन का काम लगभग हो चला है। मेडिकल कॉलेज डीन डॉ इला गुजारिया ने बताया कि नए अस्पताल में पांचवी मंजिल पर 60 बिस्तर के आईसीयू की व्यवस्था की जा रही है। 

जबकि 30 बिस्तर का आइसोलेशन वार्ड रहेगा। चौथी मंजिल पर आईसीयू में 30 बिस्तर की व्यवस्था रहेगी और 90 बिस्तर का आइसोलेशन वार्ड रहेगा। वहीं शेष आइसोलेशन वार्ड तीसरी मंजिल पर रहेंगे। इस तरह आइसोलेशन में कुल 210 पलंग की व्यवस्था रहेगी। नई बिल्डिंग में आईसीयू और आइसोलेशन वार्ड के सभी पलंगों पर ऑक्सीजन सुविधा रहेगी। आईसीयू पलंग भी कंप्यूटराइज्ड रहेंगी। इसके लिए 40 पलंग आ भी चुके हैं। शेष पलंग ऑर्डर पर जल्द आ जाएंगे।

बिल्डिंग की पांचवे व चौथे माले पर आने जाने फिलहाल तीन लिफ्ट रहेंगी

मरीजों को पांचवे और चौथे माले पर ले जाने के लिए तीन लिफ्ट की व्यवस्था रहेगी। जबकि अन्य लोग सीढिय़ों से भी आ जा सकेंगे। शासन ने बजट 54 करोड से घटाकर 21.35 करोड की प्रशासकीय स्वीकृति दी है, इस वजह से अन्य लिफ्टों को एस्टीमेट से हटाना पड़ा है। दूसरे चरण में 500 बिस्तरों के अस्पताल बनने पर दूसरी लिफ्ट भी लग जाएंगी।

इनका कहना है-
अस्पताल बिल्डिंग में पांचवे और चौथे माले का काम लगभग पूरा हो गया है, सिर्फ इलेक्ट्रिक वर्क रह गया है। सोमवार को लड़के आ जाएंगे, यह काम भी सात दिन में पूरा हो जाएगा। दिसंबर के आखिरी में आईसीयू चालू हो जाएगा। 
पीयूष पटेल, ठेकेदार

मेडिकल कॉलेज में बन रही नई अस्पताल बिल्डिंग में पांचवी और चौथी मंजिल काम तेजी से करने को कहा है। 15 से 20 दिन में आईसीयू चालू कराने की कोशिश कर रहे हैं। बिल्डिंग में पानी की व्यवस्था, डॉक्टर व स्टाफ की व्यवस्था और सुरक्षा के लिहाज से रैंप की रेलिंग ठीक कराने को कहा है।
अक्षय कुमार सिंह, कलेक्टर शिवपुरी