प्रोत्साहन राशि घोटाला: कब तक अंजाम तक पहुंचेगी जांच, अधिकारियो ने फिर समेटे दस्तावेज | Shivpuri News

शिवपुरी। जिले के विकास खंड बदरवास में हुए आशा कार्यकर्ताओ के प्रोत्साहन रााशि घोटोलें में विधानसभा के रिमाईडंर के बाद शिवपुरी का प्रशासन हरकत में आया। बताया जा रहा हैं कि रिमाईडरं की खबर प्रकाशन के बाद इस मामले की जांच कर रहे जांच दल में बदरवास पहुंचकर असल दास्तावेज जब्त करने की कार्रवाई को अंजाम दिया।

उल्लेख्नीय है कि बदरवास में आशा कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन राशि के नाम पर लाखो रूपए का फर्जी भु्गतान किया गया है। इस मामले का जब खुलासा हुआ तो जांच दल बने जांच हर बार दवा दी गई। अंतत: पोहरी विधानसभा में मामले को उठाया, परंतु अधिेकारीयों ने इसके बाद भी जांच नहीं की, जिस पर विधानसभा से जांच रिर्पोट के संबंध में रिमाइंडर जारी किया गया।

बता दें कि कलेक्टर अनुग्रहा पी के निर्देशो के बाद भी दोषियों को चिहिन्त कर निधारित समय के उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। खबर के उपरांत जांच दल में शामिल कलेक्टर प्रतिनिधि, डिप्टी कलेक्टर मनोज गरबाल, डीआईओ डॉ संजय ऋषिश्वर, एनआरएचएम की अकांउंट आफिसर रश्मि गर्म बदरवास स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। इस टीम ने कहा कि दस्तावेजों को जब्त करने की कार्रवाई की। ताकि मामले की उचित जांच की जा सके व दस्तावेज के अनुसार निधारित कार्रवाई की जा सके।