भाजपा जिलाध्यक्ष चुनाव: एक नाम पर नहीं बन सकी सहमति, कई नाम सामने | Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी के भाजपा जिलाध्यक्ष के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी जसवंत हाड़ा ने जिला प्रतिनिधियों ,मंडल अध्यक्षों, विधायक, पूर्व विधायकों एवं वरिष्ठ भाजपा नेताओं से रायशुमारी कर पैनल प्रदेश कार्यालय में भेजने की प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली है। मण्डल अध्यक्षों के चुनाव में उठे विबाद के स्वर जिलाध्यक्ष के चुनाव में देखने को नहीं मिले। जिले के अधिकांश नेता एक दूसरे से बातचीत करते हुए जिला कार्यालय पर नजर आए। निवार्चन अधिकारी जसबंत  हाडा के सामने कई नाम आने के बाद अब जिलाध्यक्ष का चयन का फैसला भोपाल से होगा।

बताया जा रहा है कि जितने नाम भी सामने आए हैं उन नामों को भोपाल में वरिष्ठ नेतृत्व के सामने रखा जाएगा और वहीं से नए जिलाध्यक्ष की घोषणा होगाी। भाजपा से जुड़े सूत्रों ने बताया है कि शनिवार को रायशुमारी के दौरान अलग-अलग गुटों ने आधा दर्जन से ज्यादा नामों को सामने रखा है। इसलिए किसी एक नाम पर सहमति न बन पाने के बाद अब भोपाल से ही जिलाध्यक्ष के नाम की घोषणा होगी।

बताया जा रहा है कि जिस प्रकार से मंडल अध्यक्षों के नाम लिए गए थे उसके बाद इनके नाम की घोषणा भी भोपाल से की गई। अब ऐसी ही पार्टी के नए जिलाध्यक्ष की घोषणा भी भोपाल से होगी। शनिवार को पार्टी कार्यालय पर जिलाध्यक्ष के चयन को लेकर जिले के कई वरिष्ठ नेताओं का जमावड़ा देखा गया। पार्टी कार्यालय में यह नेता एक दूसरे से बतियाते देखे गए इसके अलावा अंदरूनी तौर पर गुटबंदी की खबरें भी आ रही हैं। ऐसा माना जा रहा है कि इसी गुटबाजी के कारण ही अब भोपाल से ही नए जिलाध्यक्ष के नाम की घोषणा होगी।

रायशुमारी में वर्तमान जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी का नाम प्रमुखता से उभरकर सामने आया है। वहीं राजू बाथम, सोनू बिरथरे, धैर्यवर्धन शर्मा, अरविंद बेडर एवं अजित जैन, दिलीप मुदगल के पक्ष में भी रायशुमारी में नाम लिए जाने की खबरें निकल कर सामने आई हैं। कुल मिलाकर आज की रायशुमारी में जिलाध्यक्ष की रेस में एक बार फिर सुशील रघुवंशी पर सुई ठहरती दिखाई दे रही हैं।

हालांकि इससे पूर्व उम्र के बंधन के चलते सुशील रघुवंशी का जिलाध्यक्ष बनना मुश्किल लग रहा था। परंतु पार्टी द्वारा जारी उम्र की नई गाइड लाइन जो 50 से 55 वर्ष कर दी गयी उसके बाद सुशील रघुवंशी इस दौड़ में सबसे आगे निकल गए है। परंतु सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है कि जिले में शिवपुरी विधायक यशोधरा राजे सिंधिया सहित कई दिग्गज नेताओं के समर्थक मैदान में होने के चलते मामला इतना आसान भी नहीं है।

इसलिए अब देखना ये है कि कौन सा दिग्गज अपने समर्थक को शिवपुरी का जिलाध्यक्ष बनाने में सफल हो पाता है। लेकिन भाजपा कार्यालय पर अंतिम समय में यही लोग कहते हुए देखे गए कि राजू बाथम, धैर्यवर्धन शर्मा एवं सुशील रघुवंशी के नामों में से एक नाम पर सहमति बन जाएगी। इस अवसर पर पूर्व विधायक प्रहलाद भारती, पूर्व विधायक माखनलाल राठौर, विष्णु जैमिनी काका, पूर्व भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष भानू दुबे सहित सैकड़ों भाजपा कार्याकर्ता उपस्थित थे।