मेडिकल नियुक्ति काण्ड: अब हाईकोर्ट के आदेश पर होगी मेडिकल कॉलेज में लैंब अटेंडेंट की नियुक्ति | Shivpuri News

शिवपुरी। मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में लैब अटेंडेंट पद पर भर्ती अब हाईकोर्ट के आदेश पर होगी। जारी विज्ञप्ति में अनुभव अंकों का जिक्र नहीं था, फिर भी सिर्फ चार के ही अनुभव अंक जोड़कर मेरिट लिस्ट जारी कर दी गई। संबंधित चारों महिला अभ्यर्थियों को अनुभव अंक के आधार पर लैब अटेंड पद पर नियुक्ति दी जा रही थी। लेकिन अब हाईकोर्ट में मामला चले जाने से स्थिति स्पष्ट हो सकेगी कि मेडिकल कॉलेज में उक्त पद के लिए नियुक्ति सही की जा रही थी या गलत।

जानकारी के अनुसार लैब अटेंडेंट के 20 पद में से सामान्य वर्ग 8 पुरुष व 4 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। 10 जून को मेरिट सूची जारी की गई। मेरिट में सामान्य महिला वर्ग के चार पदों की मेरिट सूची में पहले नंबर पर प्रियंका खटीक, दूसरे सोनम यादव, तीसरे मोहिनी और चौथे पर संध्या यादव का नाम है।

जबकि पांचवे पर हिमानी सक्सेना और छठवें पर आयुषी सिंघल का नाम दर्ज है। पहली चार उम्मीदवारों को ही अनुभव के अंक दिए गए हैं। विज्ञप्ति शर्तों में सिर्फ कक्षा 12वीं की अंकसूची में 10% के 5 अंक दिए गए हैं। मेरिट में पहली चार महिलाओं को छोड़कर अन्य किसी को अनुभव अंक नहीं हैं।

उन्हीं चारों का लैब अटेंडेंट पद के लिए चयन किया गया है। आयुषी सिंघल की तरफ से आरटीआई के तहत जानकारी मांगी गई। बाद में हाईकोर्ट में रिट पिटीशन दायर की। हाईकोर्ट ने 30 अगस्त को कॉलेज डीन और सीईओ को नोटिस भेजा है। याचिकाकर्ता के वकील अरुण जूदावत ने बताया कि अब लैब अटेंडेंट पद पर नियुक्ति इस हाईकोर्ट की याचिका के फैसले के आधार पर होगी।