अपनी बहन और बहनोई को डम्फर से रौंदने वाला भाई केरन गिरफ्तार | SHIVPURI NEWS

खनियाधानां। पिछले 24 घंटे की सबसे बडा मामला और मीडिया मे पडा जाने से जनचर्चा का विषय आनरकिलिंग का रहा। जहां एक भाई ने अपनी बहन के द्धारा लवमैरिज करने से आहत होकर अपनी बहन ओर बहनोई को डम्पर से रौंद कर मार दिया। पुलिस ने इस हत्यारे को आज गिरफ्तार कर लिया हैं।

जैसा कि विदित हैं कि बीते रोज जिले के खनियाधाना थाने के अंतर्गत आने वाला गांव दैव खौ निवासी रामवती लोधी पत्नि विजय लोधी ने 10 पूर्व लव मैरिज की थी। बताया जा रहा हैं कि रामवती की शादी परिजनो ने पहले ओर कही की थी लेकिन वह एक ही बार ससुराल गई इसके बाद रामवती ने पडौस में रहने वाले विजय से शादी कर ली थी।

शादी के बाद यह शादीशुदा जोडा इसी गांव में रह रहा था। रामवती की इस दूसरी मनचाही शादी के कारण रामवती के परिजन नाराज चल रहे थे। शादी के 10 साल गुजर जाने के बाद भी रामवती का अपने मायके आना-जाना नही था।

कल रामवती का व्रत था इस कारण दोनो अपनी मोटर साईकिल से जरूरी समान लेने खनियाधानां जा रहे थे। जोहरीया गांव के पास एक डम्फर क्रमांक एम पी 33-1171 ने तेज गाति से आते हुए इस दम्पति को कुचल दिया। टक्कर इतनी जोर से लगी कि मोटरसाइकिल सवार विजय लोधी ओर उसकी पत्नी रामरती लोधी का मौके पर ही देहांत हो गया। उक्त डम्पर को रामवती के ताउ का लड़का केरन लोधी चला रहा था। इस घटना के बाद विजय लोधाी के परिजनो ने आरोपी केरन लोधी के घर में आग लगा दी थी। पुलिस ने इस गांव को छावनी बना दिया हैं।

आज खनियाधानां टीआई सुनील खेमारिया ने अपनी बहन और बहनोई को डम्पर से कुचलने वाले हत्यारे केरन लोधी को गिरफ्तार कर लिया हैं। जहां जिले में पिछले 1 माह में 3 थानो के प्रभारियो को अपनी लापरवाही के कारण अपनी कुंर्सी गवानी पडी। वही सिटी कोतवाली शिवपुरी पुलिस पर फरियादी को पीटने और एक जुआरी के पैर तोडने के आरोप लग रहे है। वही अचानक खनियाधानां में इस कांण्ड में टीआई सुनील खैमारिया की सक्रियता और सुझबुझ के चलते कोई अप्रात्याशित घटना नही घटी यह काबिले तारिफ है।