अंधे कत्ल का पर्दाफाश: आरोपियों ने महिला की हत्या कर लाश को जलाकर ठिकाने लगाया था,दबौचे | Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के बैराड थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां बीते कुछ दिनों पूर्व एक महिला की जली हुई लाश के मामले में पुलिस ने दो आरोपीयों को गिरफ्तार कर मामला का खुलासा कर लिया है। उक्त आरोपी के महिला के साथ संबंध थे। जिसके चलते आरोपीयों ने पहले तो महिला की हत्या की। उसके बाद साक्ष्य छुपाने महिला की लाश को जलाने का प्रयास किया।

जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल द्वारा गम्भीर अपराधों में आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिये गये हैं जिसके तहत थाना बैराड़ द्वारा अंधे कत्ल का पर्दाफाश कर 2 आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

दिनांक 25 जुलाई 20119 को थाना प्रभारी बैराड़ को ग्राम पचीपुरा तालाब पर एक महिला की लाश मिलने की सूचना प्राप्त हुई, जिसकी तस्दीक हेतु थाना प्रभारी बैराड़ पुलिस टीम के साथ एवं एफएसएल टीम मौके पर पहुंची तो पाया कि एक अज्ञात महिला के हाथ पैर बंधे थे और ग्राम पचीपुरा तालाब में उसकी लाश तैरती हुई मिली। प्रथम दृष्टया हत्या का मामला पाया गया जिसकी मौके पर कार्यवाही कर पीएम करवाया गया एवं थाना बैराड़ में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध हत्या का प्रकरण कायम किया गया।

अज्ञात मृतक महिला एवं अज्ञात आरोपी की पतारसी हेतु मुखबिर जाल फैलाया गया, अज्ञात मृतक महिला के संबंध में 2 दिन बाद मृतिका की माँ आनंदीबाई ने सूचना दी कि उसकी लड़की ज्योति 2 दिन से गायब है, नहीं मिल रही है। मृतिका की माँ को मृतिका के फोटो जो घटना के समय लिए गए उन्हें बताया, मृतिका की माँ द्वारा फोटो देखकर अपनी लड़की ज्योति का होना बताया और यह भी बताया कि ज्योति को दिनांक 23.07.19 मंगलवार को ताराचंद धाकड़, पवन शर्मा उसके घर से ले गए थे। उक्त सूचना पर से आरोपी संदेही ताराचंद और पवन शर्मा की तलाश शुरू की गई।

आज दिनांक 19.09.19 को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि दोनों आरोपी आज अपने गाँव में आए हुए हैं सूचना पर थाना प्रभारी बैराड़ द्वारा एसडीओपी पोहरी श्री राकेश व्यास को अवगत कराया जिस पर से एसडीओपी पोहरी एवं थाना प्रभारी बैराड़ द्वारा पर्याप्त पुलिस बल के साथ ग्राम गोबरा में दबिश दी दबिश के दौरान आरोपी संदेही बीएसएनल टावर के पास ठाकुर बाबा के चबूतरा पर मिले, जिनसे उक्त घटना के पूछताछ की तो उन्होने उक्त अपराध को घटित करना स्वीकार किया। दोनों आरोपियों ने बताया कि दिनांक 23.07.19 को वे तीनों ने साथ बैठकर शराब पी शराब पीने के दौरान अरोपी ताराचंद और मृतिका का झगड़ा हो गया, आरोपी ताराचंद ने मृतिका ज्योति की ज्यादा मारपीट कर दी जिससे ज्योति की मृत्यु हो गई।

आरोपियों द्वारा मृतिका ज्योति की लाश को छुपाकर रखा व अगले रोज रात में मृतिका की लाश को मिट्टी के तेल से जलाने की कोशिश की लेकिन बरसात होने से लाश जल नहीं पाई, बाद लाश के हाथ-पैर रस्सी से बांधकर, लाश को ट्रैक्टर ट्राली में रखकर ताराचंद धाकड़ व पवन शर्मा दोनों अरोपी रात में पचीपुरा तालाब पर ले गए और वहां तालाब में लाश के पेट से पत्थर बांधकर लाश को तालाब में फेंक दिया। पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयोग की गई रस्सियों के टुकड़े और मिट्टी के तेल की कुप्पी एवं ट्रैक्टर ट्राली जप्त की गई।

आरोपी ताराचंद धाकड़ पुत्र रघुनाथ धाकड़ उम्र 38 साल निवासी गोबरा के विरुद्ध थाना बैराड़ में 12 अपराध पूर्व से पंजीबद्ध है जिनमें हत्या,दुष्कर्म,छेड़छाड़ जैसे गंभीर अपराध भी हैं, एक प्रकरण में आरोपी 10 साल की सजा हो चुकी है जिस में वह जमानत पर है आरोपी द्वारा जमानत पर रहकर हत्या जैसी गंभीर घटना घटित की है। आरोपी पवन पुत्र मांगीलाल शर्मा उम्र 38 साल निवासी ग्राम धतूरा के खिलाफ भी घटना से पूर्व 14 अपराध पंजीबद्ध हैं जिनमें हफ्ता वसूली के तीन अपराध,लूट, एससी एसटी एक्ट एवं चोरी के अपराध पंजीबद्ध है।

उक्त कार्यवाही में एसडीओपी पोहरी श्री राकेश व्यास, थाना प्रभारी बैराड़ विजयपाल जाट, धर्मेन्द्र शिवहरे,प्रआर. विजय चतुर्वेदी,प्रआर. रामलखन, आर. मंगल, अरूण, रामअवतार, ऋषिकेश , सुमित, भूपेन्द्र एवं धर्मेन्द्र की सराहनीय भूमिका रही।