सटटे में घर बर्बाद करने वाली खबर: IPL में 8 लाख हारा, 50 हजार उधार चुकाओ या सटटा खेलो

पिछोर। खबर जिले के पिछोर अनुविभाग के खनियाधानां नगर से आ रही हैं जिसने यह सिद्ध् किया हैं कि पुलिस के तमाम जतन के बाद भी जिले में किक्रेट का सटटे ने अपने पैर पसारे थे।  मार्च से मई में हुए आईपीएल 2019 पर खनियाधाना नगर में लाखों का सट्टा खेला गया। इस बात का पुष्टि बुधवार को एसपी ऑफिस आए युवक द्वारा एसपी को सौंपे शिकायती आवेदन से हुई है।

हालांकि युवक जिन दो लोगों पर धमकाने के आरोप लगा रहा है, उनमें से एक व्यक्ति चाय की छोटी सी दुकान लगाता है। सोशल साइट पर शिकायत वाली बात सामने आई तो वह खनियाधाना थाने पहुंचा और टीआई को आवेदन देकर बताया कि युवक ने उसे ब्याज पर रुपए दिए थे। ज्यादा ब्याज मिलने के लालच में अपनी पत्नी के गहने तक बेच दिए। युवक जुए में हार गया और ब्याज व मूल रकम लौैटाने के नाम पर झूठी शिकायत कर दी।

सुशील भार्गव निवासी खनियाधाना ने बुधवार को एसपी ऑफिस में शिकायत की कि आईपीएल पर खनियाधाना में सट्टा खेला जिसमें वह 8 लाख रुपए हार गया। सुशील का आरोप है कि महेंद्र यादव उर्फ गांधी सिलपुरा और शिक्षक सुनील यादव उर्फ हल्के यादव ने मुझे सट्टा खिलाया। इस दौरान 50 हजार रुपए उधार रह गए।

मुझ पर दबाव बना रहे हैं कि 50 हजार रुपए उधार लौटा दो या फिर से सट्टा खेलो। मंगलवार को फोन पर जान से मारने की धमकी दी। वहीं महेंद्र उर्फ गांधी चाय बेचता है। उसने थाने पहुंचकर टीआई को बताया कि ज्यादा ब्याज के लालच में उसने सुशील भार्गव को पैसे उधार दे दिए। इसके लिए पत्नी के गहने बेचने पड़े।

सट्टे में रुपए हार जाने के बाद लौटाने में आनाकानी कर रहा है। टीआई खनियाधाना सुनील खेमरिया का कहना है कि मामले की जांच करा रहे हैं।

सुशील भार्गव ने एसपी को सौंपे आवेदन में सट्टे में 2.50 लाख रुपए हारने का जिक्र किया है। जबकि वीडियो में युवक 7 से 8 लाख रुपए हार जाने की बात कह रहा है। इस वजह से दोनों बार सट्टे में हारी राशि को लेकर युवक अस्पष्ट है। जिससे शिकायतकर्ता युवक ही संदेह के दायरे में खड़ा हो रहा है।