देवालय से गायब हुए महादेव,पुलिस ने तलाशा तो मंदिर के पीछे थे देवाधिदेव | SHIVPURI NEWS

खनियाधाना।  श्रावण मास की आज से शुरुआत हो गई और शिव मंदिरों में भक्तों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। लेकिन खनियाधाना में एक ऐसी घटना हुई जिसने पहले तो लोगों को चौंकाया और फिर उनका गुस्सा फूट पड़ा। यहां मंदिर से दिन दहाड़े शिवलिंग चोरी हो गया।

दरअसल श्रावण मास का पहला दिन होने के कारण खनियाधाना के हिंद गली में स्थित भोलेनाथ के मंदिर में सुबह से दर्शन करने तथा जल चढ़ाने वालों का तांता लगा था। इनमें बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थी। लेकिन दोपहर होते ही किसी अज्ञात व्यक्ति ने मंदिर में से शंकर जी की पिंडी ही गायब कर दी।

दोपहर में जो लोग शिवलिंग पर जल चढ़ाने पहुंचे, वे ये देखकर हैरान रह गए कि शिवलिंग गायब हो गया। लोगों ने तुरंत मंदिर के पंडित से इस बारे में संपर्क किया। तुरंत ही ये खबर पूरे इलाके में फैल गई और मंदिर में लोगोंं की भीड़ जमा हो गई। फिर शिवलिंग चोरी की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और मंदिर का मुआयना कर जांच शुरू कर दी।

बताया गया कि जनता का बढता आक्रोश देखकर पुलिस ने तत्काल भागवान भोलनाथ का नाम लेकर सर्च किया तो मंदिर के पीछे ही देवाधिदेव मिल गए। पुलिस ने बताया कि एक मानसिक रूप से रोगी युवक देवालय से महादेव को उठाकर लेकर बैठा था। उसी ने भोलेनाथ को उठाया था।