स्मैक के बढ़ते नशे को लेकर महिलाएं उतरीं सड़कों पर, सौंपा ज्ञापन | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शहर में शिवानी हत्याकाण्ड के बाद स्मैक के खिलाफ लोगों में आक्रोश बढ रहा है। इसके चलते लगातार एक के बाद एक लगभग सभी समाज सेवी संस्थाएं आगे आ रही है। इस नशे से होने बाले दुष्प्रभावों के चलते अब महिलाएं भी इस नशे के खिलाफ सडकों पर उतर आई है। जिसके चलते आज महिलाओं ने इस जहर के कारोवार के खिलाफ अपना विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन के बाद महिलाओं ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

आज शहर से एकत्रित महिलाओं ने स्मैक के नशे को रोकने के लिए और इस नशे का कारोबार करने वालों अपराधियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर महिलाओं ने रैली निकालकर ज्ञापन अपर कलेक्टर बी.एस.बालौदिया को सौंपा। इस ज्ञापन में भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष श्रीमती बीनू  शर्मा ने बताया कि पूर्व से ही अपने दुर्भाग्य पर रोती शिवपुरी के हिस्से में एक नया अध्याय उस समय जुड़ गया जब एक 17 वर्षीय नाबालिग बालिका की नशीले पदार्थों के कारोबारियों के चंगुल में फंसकर असमय जीवन लीला समाप्त हो गई।

इस घटना में गिरफ्तार पांच लोगों में से तीन का एचआईवी पॉजीटिव निकलना अत्याधिक गंभीर है क्योंकि इससे यह तथ्य भी सामने आया है कि समाज में इंजेक्शन के माध्यम से सामूहिक नशे की वृत्ति बढ़ रही है जिसके कारण एचआईव्ही संक्रमण फैल रहा है। सबसे दुखदाई तो यह है कि जिन पर समाज की सुरक्षा का दायित्व है उन पर ही आरोप लग रहे है कि वह ड्रग तस्करों से मिले हुए है। यह चर्चा भी सरगर्म है कि पिछले दिनों पुलिस ने जान बूझकर नशीले पदार्थों के साथ पकड़े गए ड्रग तस्करों को फरार होने दिया।

इतना ही नहीं तो आरोपी पुलिस वालों के विरूद्ध कोई कार्यवाही करने से भी प्रशासन कतरा रहा है। महिलाओं के हुजूम ने ज्ञापन सांैपते हुए मप्र के राज्यपाल से मांग की है कि अतिशीघ्र नशीले पदार्थों के कारोबारी और उनके संरक्षकों को बिना किसी पक्षपात के कानून के अनुसार सजा दी जाए। तभी शिवपुरीवासियों को न्याय मिलेगा। इस ज्ञापन को सांपते समय करीब आधा सैकड़ा महिलाऐं व भाजपा नेत्री उपस्थित रही।