अराजकता पर शोक की जगह जश्न मनाती है कांग्रेस : सुरेन्द्र शर्मा

शिवपुरी। प्रदेश में अराजकता और कानून व्यवस्था का मखौल चरम पर है। भोपाल में दिनदहाड़े पुलिस अधिकारी की हत्या कर दी जाती है। पहले एक नाबालिक बालिका के साथ दुष्कर्म करके उसकी हत्या हो जाती है,दूसरे दिन दूसरी छात्रा की भी लाश मिलती है। इंदौर के एक थाने में पुलिस एक दलित युवक की पीट पीटकर हत्या कर देती है। लेकिन,ऐसे दु:ख और शोकभरे माहौल में भी कांग्रेस खुशी मनाने का मौका ढूंढ लेती है।

 यह आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य एवं शिवपुरी लोकसभा सहसंयोजक सुरेन्द्र शर्मा  ने कहा कि भोपाल में ताजा तीन हत्याओं पर शोक मनाने की जगह काँग्रेस जश्न मना रही है। कमलनाथ के पार्टी अध्यक्ष पर एक साल पूरा होने पर राजधानी में जश्न मनाया जाता है। भोपाल में जिस डीएसपी की हत्या हुई उस हत्या का आरोपी हिमांशु भी कांग्रेस का जिला सचिव निकलता है।

जिस सरकार के राज में अराजकता, मनमानी, कानून व्यवस्था की धज्जियाँ उडी हों, वहाँ किसी भी तरह का जश्न मानना निर्लज्जता की हद है। जहाँ शोक और संवेदना होना चाहिए, वहां मिठाइयां बंट रही है।