Ads 720 x 90

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता निकली मास्टर माईंड, अपने साथ अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया, दबोचा | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। खबर जिले के फिजीकल थाना क्षेत्र की है। जहां पुलिस ने एक अश्लील वीडियों बनाकर वायरल करने के एवज में पांच लाख की फिरौती मांग रहे एक महिला और दो पुरूषों को पुलिस ने दबौचा है। उक्त आरोपीयों ने कार्यालय में बंद कर पहले तो पीडित की मारपीट की। उसके बाद उक्त आरोपीयों ने महिला के साथ जबरन अश्लील संबंध बनाए और उक्त पूरे कत्य को मोबाईल में कैद कर लिया। इस मामले में फरियादी ने फिजीकल थाना पुलिस को उक्त पूरा मामला बताया। जहां पुलिस ने फरियादी की शिकायत पर सिविल ड्रेस में आरोपीयों को दबौचा हैै। उक्त पूरे मामले की मास्टर माईंड आंगनवाडी कार्यकर्ता ही निकली। इस मामले में एक आरोपी फिलहाल फरार बताया गया है। 

जानकारी के अनुसार बीते रोज रियादी जुगल किशोर कोड़े निवसी गांधीनगर काॅलोनी शिवपुरी द्वारा थाना फिजिकल आकर रिपोर्ट की कि में आंगनवाड़ी ट्रेनिंग सेंटर शिवपुरी में सहायक ग्रेड-3 के पद पर पदस्थ हूँ, मेरे ट्रेनिंग सेंटर में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं को  आवासीय प्रशिक्षण दिया जाता है विगत एक डेढ़ साल पहले एक महिला ने मेरे ट्रेनिंग सेंटर में प्रशिक्षण लिया था जिसने दिनांक 10.06.19 को अपने मोबाईल से फोन लगाकर कहा कि में मरीज को लेकर ग्वालियर आई हूं मुझे आपसे जरूरी काम है आप कहाॅ मिलेगें।

जिसपर पीडित ने कहा में अपनी आफिस में ही मिलूंगा उसके बाद उक्त महिला का पुनः फोन आया और कहा कि मेरे पति से बात कर लीजिए, उक्त महिला ने एक व्यक्ति को अपना पती बताकर बात करवाई और कहा मुझे आपसे मिलना है तो फरियादी ने उनसे कहा आप मेरे आॅफिस में आकर बात करलो जो भी बात करनी है बाद उक्त महिला आपने तीन अन्य साथियों के साथ आकर मेरे आॅफिस में आई और उन्होने मेरे आफिस के सभी गेट बंद करके चााटे मारे मैंने विरोध किया तो उनमें से एक व्यक्ति ने कट्टा निकालकर जान से मारने की धमकी देते हुए जबरदस्ती मेरे कपड़े निकलवाये तथा मोबाईल एवं पर्स भी ले लिए बाद मोबाईल से वीडियो बनाने लगे और धमकी दी कि अगर कल तक 5 लाख रूपये नहीं दिये तो में इस वीडियो को वायरल कर दूंगा और इस महिला से 376 का केस पुलिस में दर्ज करवा देंगे फरियादी की रिपोर्ट पर से थाना फिजिकल में अपराध क्रमांक 126/19 धारा 389 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

उक्त अपराध को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल ने सायबर सैल के माध्यम से उक्त आरोपियों की लोकेशन को लगातार ट्रेस करने हेतु आदेशित किया साथ ही साथ थाना प्रभारी फिजिकल उनि. दीप्ति तोमर को फरियादी के लगातार संम्पर्क में रहकर आरोपियों को ट्रेस करने हेतु आदेशित किया, आरोपियों द्वारा फोन कर फरियादी को पैसे देने हेतु धमकाया जा रहा था,दीप्ति तोमर द्वारा फरियादी को धैर्य व बुद्धिमता से बातचीत जारी रखने व आरोपियों को पैसे देने के लिए जगह पूछी गई जिस पर आरोपियों ने फरियादी को पहले पोहरी बुलाया बाद भटनावर में बुलाया इसके बाद संदेह होने पर उन्होने अपना फोन फिर से बंद कर लिया।

कुछ समय बाद जब उन्होने फोन चालू किया तो उनका लोकेशन बैराड़ का प्राप्त हुआ पुलिस टीम द्वारा तत्काल बिना समय गवांये हुए बैराड़ पहुंचकर लोकेशन के आधार पर दबिश देकर बोलेरो क्रमांक एमपी 06 सीए 4226 में बैठे व्यक्तियों से पूछताछ की तो वो वही आरोपी निकले जिन्होने उक्त घटना को अंजाम दिया था, जिनसे नाम पता पूछने पर उन्होने अपना नाम अल्केश पुत्र कन्हैलाल उम्र 23 साल निवासी ऊमरी थाना अगरा जिला श्योपुर, जगदीश पुत्र कमला कुशवाह उम्र 40 साल निवासी ग्राम नयागाॅव अगरा जिला श्योपुर एवं आरोपी उक्त महिला को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से बोलेरो क्रमांक एमपी 06 सीए 4226 वाहन एवं एक सेमसंग गैलैक्सी एम-10 कम्पनी का मोबाईल और 1000 रूपये विधिवत जप्त किये घटना का चैथा आरोपी अभी फरार है जिसकी तलाश अभी जारी है।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी फिजिकल दीप्ति तोमर, भावना राठौर, रामकुमार, पुष्पेन्द्र, ऊदल, कुलदीप एव सैनिक मनोज की विशेष भूमिका रही।