Ads 720 x 90

कुशवाह समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में एक दूसरे के हुए 451 जोडे | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। समाज में फिजूलखर्ची रोकने दहेज प्रथा पर रोक लगाने और समाज में सद्भावना व संगठन बनाये रखने का अनूठा उदाहरण कुशवा समाज शिवपुरी ने दिया जहां जिलेभर के विभिन्न स्थानों पर आयोजित कुशवाहा समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में 451 नवयुगलो ने  दांपत्य जीवन में प्रवेश किया इन सभी जोड़ों को भावी जीवन में खुशहाली व सुख संपन्नता का आशीर्वाद देने के लिए समाज के वरिष्ठ जनों ने भी भागीदारी थी और यह आयोजन संपूर्ण आंचल भर में अमिट छाप छोड़ गया। 

साथियों कुशवाहा समाज जिला शिवपुरी द्वारा भगवान विष्णु के अवतार परशुराम जयंती अक्षय तृतीया पर कुशवाहा समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन जिले भर मैं आयोजित किए गए जिसमें कुशवाहा समाज के 451 जोड़ों ने पानी ग्रहण संस्कार विवाह कर अपने नव दांपत्य जीवन की शुरुआत की। यह आयोजन कर कुशवा समाज ने धन एवं समय के साथ-साथ दहेज प्रथा का विरोधी होने का उदाहरण प्रस्तुत किया जो अन्य समाजों के लिए प्रेरणादाई होगा।

साथियों इस विवाह सम्मेलन में तहसील पोहरी में किशोरी लाल कुशवाहा पूर्व जनपद सदस्य के मार्गदर्शन एवं धनीराम कुशवाह की अध्यक्षता में 129 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे इसके साथ साथ ग्राम गुरीछा में नंदकिशोर की अध्यक्षता में 27 जोड़े कोलारस तहसील के ग्राम रामपुर चंदोरिया में लक्ष्मण कुशवाह पूर्व सरपंच की अध्यक्षता में 21 जोड़े ग्राम बांगरोद में फूल सिंह कुशवाह की अध्यक्षता में 16 जोड़े नरवर तहसील के ग्राम चकरामपुर में वीर सिंह कुशवाह की अध्यक्षता में 31 जोड़े मगरोनी में 17 ग्राम कटेघरा में 15 सुल्तानपुर में 8 एवं शिवपुरी तहसील के ग्राम राजश्री में बाबूलाल कुशवाह पूर्व सरपंच के निर्देशन में 187 जोड़े का पाणिग्रहण संस्कार कराया गया।

इस प्रकार जिलेभर में कुशवाहा समाज के 451 जोड़े नव दंपतियों का विवाह संपन्न कराया गया। साथियों इन विवाह सम्मेलनों में पहुंचकर कुशवाह समाज के जिले एवं अन्य जिलों के समाजसेवियों समाज के जनप्रतिनिधियों एवं समाज की हर वर्ग के व्यक्तियों द्वारा नव दंपतियों को भावी जीवन में खुशहाली एवं सुख संपन्नता का आशीर्वाद दिया गया।